वॉशिंगटन: कुख्यात आतंकी संगठन अल कायदा के खिलाफ लड़ रहे अमेरिका को एक बड़ी कामयाबी मिली है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पुष्टि की है कि यमन में एक बड़े आतंकवाद रोधी अभियान के तहत अमेरिकी बलों ने ‘अलकायदा इन अरब पैनिन्सुले’ (AQAP) के संस्थापक एवं नेता कासिम अल रिमी को मार गिराया है। बता दें कि इसी जिहादी समूह ने अमेरिकी नौसैन्य अड्डे पर गोलीबारी की जिम्मेदारी ली थी जिसमें 3 अमेरिकी नाविकों की मौत हो गई थी।

अल कायदा प्रमुख अयमान अल जवाहिरी के सहयोगी रिमी (46) को 2015 में अमेरिका के सर्वाधिक वांछित आतंकवादियों की सूची में शामिल किया गया था। अमेरिका ने रिमी की सूचना देने वाले को एक करोड़ डॉलर का पुरस्कार देने की घोषणा की थी। ट्रंप ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा, ‘उसकी मौत AQAP और अल कायदा की वैश्विक मुहिम को और कमजोर करती है तथा यह हमें उन खतरों को दूर करने की दिशा में और नजदीक लाती है जो ये समूह हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए पैदा करते हैं।’

हालांकि, ट्रंप ने यह नहीं बताया कि अमेरिका ने यह अभियान कब चलाया और कैसे चलाया। AQAP को अल कायदा की सबसे खतरनाक इकाई माना जाता रहा है जो अमेरिका पर हमला करने की कोशिशें करता रहा है। रिमी ने 18 मिनट के अपने वीडियो में कहा था कि फ्लोरिडा में अमेरिकी नौसैन्य अड्डे पर 6 दिसंबर को हुई गोलीबारी के पीछे उसी के समूह का हाथ था। इस हमले में एक सऊदी वायुसेना अधिकारी ने तीन अमेरिकी नाविकों की हत्या कर दी थी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.