salman-khan-cuteमुंबई। करन जौहर के बाद अब बॉलीवुड के दबंग खान भी पाकिस्तानी कलाकरों के भारत में काम करने के पक्ष में आ गए हैं। सलमान का कहना है कि वे कलाकार हैं, आतंकवादी नहीं। सरकार उन्हें वीजा और देश में रहने देने की अनुमति देती है। दरअसल, उरी अटैक के बाद से पाकिस्तानी कलाकारों को लेकर देशभर में भारी विरोध देखने को मिल रहा है। वहीं, सर्जिकल स्ट्राइक पर भी सलमान का स्टैंड साफ दिखा उन्होंने कहा कि वे आतंकवादी थे ना? प्रॉपर एक्शन था।

शुक्रवार को एक कार्यक्रम में मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए सलमान ने कहा कि कलाकार और आतंकवदी दोनों अलग-अलग बातें हैं। क्या कलाकार आतंकवादी होते हैं? कलाकार यहां वीजा लेकर आते हैं उन्हें वर्क परमिट हमारी सरकार देती है। आदर्श स्थिति तो अमन और चैन की होनी चाहिए, लेकिन अब जो हुआ है तो जाहिर है एक्शन का रिएक्शन तो होगा ही।
गौरतलब है कि उरी में हुए आतंकी हमले के बाद से पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान, माहिरा खान, अली जफर सहित कई अभिनेताओं और गायकों को पाकिस्तान वापस भेजने की मांग उठाई जा रही है। इस क्रम में गुरुवार को बैठक कर फिल्म निर्माताओं के संगठन ‘इंडियन मोशन पिक्चर्स एसोसिएशन’ (इम्पा) ने एक प्रस्ताव पारित कर पाकिस्तानी कलाकारों के बॉलीवुड में काम करने पर रोक लगा दी थी।
इम्पा के अध्यक्ष और निर्माता टीपी अग्रवाल ने अपने बयान में कहा था कि संस्था के सदस्य निर्माता किसी पाकिस्तानी कलाकार को अपनी फिल्मों में नहीं लेंगे। वहीं, राज ठाकरे की पार्टी ‘मनसे’ भी पाकिस्तानी कलाकारों को भारत छोड़ने का अल्टीमेटम दे चुकी है। इसके बाद करण जौहर भी पाकिस्तानी कलाकारों के पक्ष में आ गए थे। उन्होंने कहा था कि ‘मनसे’ की भारत में काम कर रहे पाकिस्तानी कलाकारों पर प्रतिबंध की मांग आतंकवाद का समाधान नहीं। लोगों को व्यापक तौर पर साथ आकर इस समस्या का समाधान निकालना चाहिए। कला और प्रतिभा पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकता।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.