पिछले साल जब अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के निधन की जांच के दौरान सामने आए ड्रग्स एंगल के बाद बॉलीवुड सितारों की जांच-पड़ताल शुरू हुई, तब उस वक्त एक वीडियो बहुत तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. ये वीडियो था बॉलीवुड के फिल्म निर्माता करण जौहर के घर का, जहां पर कई बॉलीवुड सितारे पार्टी करते हुए नजर आए थे. इस वीडियो को लेकर दावा किया गया था कि करण जौहर की इस पार्टी में ड्रग्स का इस्तेमाल किया गया.
इस वीडियो की जांच हुई, लेकिन उस वक्त इसे लेकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की तरफ से कोई बयान नहीं दिया गया था. हालांकि, करण जौहर ने एक बयान जारी करते हुए उनपर लगे आरोपों का खंडन जरूर किया था, पर उन्हें एनसीबी से क्लीन चिट भी नहीं मिली थी. इस बीच खबर है कि करण जौहर की 2019 की पार्टी वाला ये वीडियो एक बार फिर से एनसीबी की रडार पर है.
एनसीबी की रडार पर है करण जौहर की पार्टी वाला वीडियो
दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले की जांच एनसीबी ने क्लोज नहीं की है. इतना ही नहीं, एनसीबी को केंद्र सराकर से इस मामले की जांच के लिए 6 महीने का और समय मिला है. समीर वानखेड़े ने इस वीडियो की जांच जारी रखने के लिए केंद्र सरकार से इजाजत मांगी थी, जो उन्हें मिल गई. अब इसके बाद समीर वानखेड़े के निशाने पर कई बॉलीवुड सितारे आने वाले हैं.
करण जौहर की पार्टी का जो वीडियो वायरल हुआ था, उसमें आपने देखा होगा कि रणबीर कपूर, दीपिका पादुकोण, करण जौहर, विक्की कौशल, मलाइका अरोड़ा और अर्जुन कपूर जैसे कई सितारे फुल एन्जॉय करते हुए नजर आए थे. इस दौरान वीडियो में कुछ सफेद-सफेद भी नजर आया, जिसे लेकर दावा किया गया कि वह ड्रग्स था. हालांकि, करण जौहर इन दावों को सिरे से नकारते आए हैं. अपने एक बयान में करण जौहर ने कहा था कि उनकी पार्टी में किसी भी सेलेब ने ड्रग्स नहीं लिया था. उनका कहना था कि उनके इस वीडियो की जांच भी हुई, जिसके बाद जांच में अधिकारियों को कुछ नहीं मिला था.
करण जौहर के इस वीडियो पर छिड़ा है विवाद

आपको बता दें कि पिछले साल की तरह इस साल भी एनसीबी बॉलीवुड के ड्रग्स नेक्सस को लेकर सुर्खियों में हैं. ड्रग्स मामले में एनीसीबी की गिरफ्तार में शाहरुख खान का बेटा आर्यन खान है. आर्यन खान की कल सेशन कोर्ट से जमानत याचिका खारिज हो गई थी, जिसके बाद अब उन्होंने बॉम्बे हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. आर्यन खान की जमानत याचिका पर कल यानी गुरुवार को सुनवाई होनी है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.