बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता प्रेम चोपड़ा (Prem Chopra Birthday), जिन्होंने अपने छह दशक लंबे फिल्मी करियर में दर्शकों का खूब मनोरंजन किया, वह आज अपना 86वां जन्मदिन मना रहे हैं. प्रेम चोपड़ा ने करीब 60 साल तक तकरीबन 380 फिल्मों में काम किया, जिनमें उनकी अदाकारी को खूब सराहा गया. प्रेम चोपड़ा का नाम हिंदी सिनेमा के दिग्गज खलनायकों की लिस्ट में शामिल है. फिल्म ‘बॉबी’ का ‘प्रेम नाम है मेरा, प्रेम चोपड़ा’ वाला डायलॉग हो या फिर फिल्म ‘आग का गोला’ का ‘शराफत और ईमानदारी का सर्टिफिकेट ये दुनिया सिर्फ उन्हें देती है, जिनके पास दौलत होती है…’ वाला डायलॉग, इस तरह के न जाने कितने ही ऐसे डायलॉग हैं, जो प्रेम चोपड़ा की पहचान बने.
हालांकि, आज न तो प्रेम चोपड़ा के संघर्ष और जिंदगी पर बात करेंगे और न ही उनके डायलॉग्स की चर्चा. आज प्रेम चोपड़ा के जन्मदिन (Prem Chopra 86th Birthday) के खास मौके पर हम आपके लिए उनसे जुड़ा हुआ एक ऐसा दिलचस्प किस्सा लेकर आए हैं, जिसे पढ़ने के बाद आप भी यह कहकर ठहाके लगाकर हंसने लगेंगे कि प्रेम चोपड़ा कितने शैतान हैं. यह किस्सा जुड़ा है प्रेम चोपड़ा की एक फिल्म से, जिसमें धर्मेंद्र (Dharmendra) भी उनके साथ थे. प्रेम चोपड़ा एक सीन को करने से बार-बार धर्मेंद्र को मना कर रहे थे. आज जानेंगे कि आखिर वह क्यों धर्मेंद्र से मना कर रहे थे और क्या धर्मेंद्र ने प्रेम चोपड़ा की बात मान ली थी या नहीं? चलिए इस पर बात करते हैं…
‘पॉकेट मार’ फिल्म के इस सीन से घबरा गए थे प्रेम चोपड़ा
यह बात है साल 1974 की. अन्नू कपूर ने अपने एक शो में 1974 में रिलीज हुई ‘पॉकेट मार’ फिल्म से जुड़ा ये दिलचस्प किस्सा शेयर किया था. अभिनेता ने बताया था कि फिल्म का क्लाइमेक्स सीन शूट होना था. वो क्लाइमेक्स सीन कुछ इस प्रकार था कि प्रेम चोपड़ा, जो इस फिल्म में विलेन थे, उनके गुंडे धर्मेंद्र को अपनी जीप में एक रस्सी से बांधकर सड़क पर घसीटते हैं. इस सीन को लेकर प्रेम चोपड़ा काफी चिंतित थे. वह सेट पर इधर से उधर घूम रहे थे कि तभी उनकी नजर धर्मेंद्र के एक कजिन नरेंद्र पर पड़ी, जो उस वक्त सेट पर ही मौजूद थे.
प्रेम चोपड़ा, नरेंद्र के पास गए. उन्हें साइड में लेकर गए और उनके सामने अपनी चिंता जाहिर की. उन्होंने नरेंद्र से कहा कि ये बहुत खतरनाक सीन है और धर्मेंद्र जी को ये सीन खुद नहीं करना चाहिए. चेहरे पर अगर कोई गलती से चोट लग गई तो परेशानी खड़ी हो जाएगी. एक एक्टर के लिए उसका चेहरा ही सब कुछ होता है. प्रेम चोपड़ा की बातें सुनकर धर्मेंद्र के कजिन भी थोड़े चिंतित हो गए, क्योंकि उन्हें उनकी बात सही लगी थी. वह प्रेम चोपड़ा की बात सुनकर सीधे धर्मेंद्र के पास जा पहुंचे.
उन्होंने अपने भाई धर्मेंद्र से कहा कि प्रेम जी कह रहे हैं कि धर्मेंद्र को ये सीन खुद नहीं करना चाहिए. नरेंद्र, धर्मेंद्र से जब ये बातें कह रहे थे, तब प्रेम चोपड़ा भी उन लोगों के बराबर में ही खड़े थे. अब नरेंद्र की बात जैसे ही खत्म हुई धर्मेंद्र ने प्रेम चोपड़ा की तरफ देखा और वह जोर-जोर से हंसने लगे. उन्होंने प्रेम चोपड़ा से कहा- मुझे मालूम है तुम ऐसा क्यों कह रहे हो… धर्मेंद्र को लगा कि प्रेम चोपड़ा जानकर ऐसा कह रहे हैं, ताकि वो स्क्रीन पर उनसे कमजोर दिखाई पड़ें और इसकी एक वजह और थी, जो उस वक्त धर्मेंद्र ने उनसे नहीं कही.
सीन न करने की जिद के पीछे प्रेम चोपड़ा की थी ये मजेदार वजह
धर्मेंद्र जब नहीं माने तो प्रेम चोपड़ा ने अपनी हिम्मत बांधी और धर्मेंद्र से कहा- देखिए, ये बहुत खतरनाक है और इस तरह का खतरनाक स्टंट आपको खुद नहीं करना चाहिए. आप ये सीन किसी स्टंट मैन या बॉडी डबल से करवा लें. प्रेम चोपड़ा ने यह बात धर्मेंद्र से कई बार कही तब धर्मेंद्र ने उनसे कहा- तुम क्यों बार-बार ऐसा कह रहे हो?
धर्मेंद्र के इस सवाल पर प्रेम चोपड़ा ने जवाब दिया- मैं बार-बार इसलिए कह रहा हूं कि आप तो अपना ये स्टंट आसानी से करके बढ़ लोगे, लेकिन थोड़ी देर बाद फिर मेरी बारी आएगी, जहां मुझे जीप से बांधकर घसीटा जाएगा, जो मैं नहीं चाहता, इसलिए मैं आपसे कह रहा हूं कि अगर आप अभी ये सीन करने से मना कर दोगे, तो फिर मुझे भी ये सीन नहीं करना पड़ेगा. प्रेम चोपड़ा की ये बातें सुनकर धर्मेंद्र और उनके कजिन नरेंद्र दोनों ही खूब जोर-जोर से हंसे.
प्रेम चोपड़ा कई कोशिशों के बावजूद अपने मंसूबे में नाकाम रहे और उनको ये सीन करना ही पड़ा. (फिल्म में ऐसा ही सीन है, पहले धर्मेंद्र को जीप से घसीटते हुए देखा गया और फिर बाद में प्रेम चोपड़ा को)

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.