टीवी रिएलिटी शो ‘बिग बॉस 13’ कंटेस्टेंट हिमांशी खुराना सुर्खियों में हैं। लोग उनका नया गाना ‘बाजार’ काफी पसंद कर रहे हैं। एक्टिंग और म्यूजिक वीडियो काफी दिलचस्प है। हाल ही में हिमांशी ने आसिम रियाज संग रिलेशन, रिलीज हुए नए गाने और पर्सनल लाइफ से जुड़े कुछ अपडेट्स दिए। हिमांशी ने ईटाइम्स को बताया कि कैसे लोग उनका मजाक उड़ाया करते थे जब वह थोड़ी मोटी हुआ करती थीं। सोशल मीडिया पर ट्रोल करने से लेकर बॉडी शेमिंग तक का हिमांशी शिकार हो चुकी हैं।

हिमांशी कहती हैं कि मैं सोशल मीडिया पर बहुत ट्रोल होती हूं। बिग बॉस से पहले भी हुआ करती थी और बाद में भी हो रही हूं। लोगों ने मेरी बॉडी का बहुत मजाक उड़ाया है। मुझे पीसीओएस (PCOS) है। जो लोग इसके बारे में नहीं जानते हैं वह इंटरनेट पर जाएं और इसके बारे में पढ़ें। कई लड़कियां इससे जूझ रही हैं। जो लोग इसके बारे में जानते हैं वह मेरे से इसको जोड़ पाएंगे। पीसीओएस के दौरान, आपका वजन घटता-बढ़ता रहता है। कई बार बहुत ज्यादा बढ़ जाता है तो कई बार बहुत ज्यादा कम भी हो जाता है। मेरा ब्लड प्रेशर भी काफी घटता-बढ़ता है। बीपी इतना कम हो जाता है कि मुझे तीन घंटे ऑक्सीजन लेनी पड़ती है। मेरी मैनेजर परेशान हो जाती है जब मैं रिस्पॉन्ड नहीं करती। मेरी पूरी टीम ध्यान रखती है कि जब मैं घर पर हूं तो मेरे पास मेरा फोन न हो। हमारा एक रूल है कि जब हम इंटरनेट बंद कर देंगे तो काम के बारे में बिलकुल बात नहीं करेंगे। गेम खेलने के साथ घर का काम और बातें ही करेंगे। बस नेगेटिव चीजों से दूर रहना चाहते हैं इसलिए।

हिमांशी आगे कहती हैं कि लॉकडाउन के दौरान भी मुझे ट्रोल किया गया। किसी का गाना आ रहा था। लोग मुझे कह रहे थे कि मुझे किसे फॉलो करना चाहिए और किसे नहीं। मेरा सोशल मीडिया है मैं किसी को फॉलो करूं या न करूं, मेरा पर्सनल अकाउंट है। मैं डिजिटल रिलेशनशिप में भरोसा नहीं रखती हूं। पिछले 10 सालों से मैं इंडस्ट्री में काम कर रही हूं। अगर किसी को बात करनी होती है तो वह मुझे कॉल कर लेता है या मैं कर लेती हूं। मुझे किसी को फॉलो करने की जरूरत नहीं। अगर मैं पंजाबी इंडस्ट्री से केवल दो लोगों को फॉलो करती हूं तो इसका मतलब यह तो नहीं कि मैं किसी को जानती नहीं या वे मुझे नहीं जानते। अगर किसी का नया पंजाबी गाना आता है और वह अच्छा परफॉर्म करता है तो लोग मुझे ट्रोल करना शुरू कर देते हैं। और अगर नहीं भी करता तो भी मुझे ट्रोल करते हैं जिससे उनकी गलतियों को छिपाया जा सके। यह कहां का रूल है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.