अरे भाई मुझसे नहीं कैटरीना से कहो। सलमान कैटरीना के कहने पर ही करेंगे शादी। मिस्टर परफेक्शनिस्ट के नाम से मशहूर बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान का कहना है कि दूसरे बेहद लोकप्रिय अभिनेता सलमान खान को शादी के लिए उनकी मित्र कैटरीना कैफ ही मना सकती हैं। आमिर ने कहा, “हम लोग काफी समय से उन्हें (सलमान खान को) शादी करने के लिए कह रहे हैं, लेकिन उन्होंने कभी हमारी बात नहीं सुनी। अब शायद वह कैटरीना कैफ की सुनेंगे। दरअसल, आमिर ने सलमान खान की आने वाली फिल्म ‘एक था टाइगर’ की शुरुआती झलकियां देखीं, जिसके बाद एक दिलचस्प और चर्चित हो चुके दृश्य, जिसमें कैटरीना कैफ सलाह के रूप में सलमान खान से कहती हैं कि उनकी उम्र शादी के लायक हो गई है, का जिक्र करते हुए आमिर ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि वह (सलमान खान) इस सलाह को वास्तविक जीवन में मान लेंगे। आमिर को एक था टाइगर की शुरुआती झलकियां काफी पसंद आईं और उन्हें यह भी लगता है कि यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बेहद कामयाब साबित होगी। फिल्म के निर्माता आदित्य चोपड़ा की रोमांच से भरी इस रोमांटिक फिल्म में सलमान खान और कैटरीना कैफ की रोमांटिक जोड़ी नजर आएगी। एक था टाइगर का निर्देशन कबीर खान ने किया है, और यह स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 15 अगस्त को प्रदर्शित होगी।
आमिर ने कहा, मैंने फिल्म नहीं देखी है, लेकिन मुझे फिल्म की शुरुआती झलकियां पसंद आ रही हैं। मुझे लगता है कि यह फिल्म बहुत बड़ी सफलता हासिल करेगी। मैंने सलमान, कबीर साहब और आदित्य चोपड़ा को संदेश भेजा है कि मुझे इसकी शुरुआती झलकियां पसंद आई हैं।”
उल्लेखनीय है कि एक था टाइगर के प्रोमो पाकिस्तान में प्रतिबंधित कर दिए गए हैं, क्योंकि उनके मुताबिक इस फिल्म में वहां की खुफिया एजेंसी आईएसआई को गलत बताया गया है। जब आमिर से इसके बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, मैं तो यह फिल्म जरूर देखूंगा, लेकिन मुझे नहीं पता कि वहां (पाकिस्तान में) यह क्यों नहीं दिखाई जा रही है।

·ñ¤ÅUÚUèÙæ ·ð¤ ·¤ãUÙð ÂÚU ãUè àææÎè ·¤Úð´U»ð âÜ×æÙ

¥ÚðU Öæ§ü ×éÛæâð ÙãUè´ ·ñ¤ÅUÚUèÙæ âð ·¤ãUæðÐ âÜ×æÙ ·ñ¤ÅUÚUèÙæ ·ð¤ ·¤ãUÙð ÂÚU ãUè ·¤Úð´U»ð àææÎèÐ ç×SÅUÚU ÂÚUÈÔ¤€UàæçÙSÅU ·Ô¤ Ùæ× âð ×àæãêÚU ÕæòÜèßéÇ ¥çÖÙðÌæ ¥æç×ÚU ¹æÙ ·¤æ ·¤ãÙæ ãñ ç·¤ ÎêâÚUð ÕðãÎ Üô·¤çÂýØ ¥çÖÙðÌæ âÜ×æÙ ¹æÙ ·¤ô àææÎè ·Ô¤ çÜ° ©Ù·¤è ç×˜æ ·ñ¤ÅUÚUèÙæ ·ñ¤È¤ ãè ×Ùæ â·¤Ìè ãñ´Ð ¥æç×ÚU Ùð ·¤ãæ, “ã× Üô» ·¤æȤè â×Ø âð ©‹ãð´ (âÜ×æÙ ¹æÙ ·¤ô) àææÎè ·¤ÚUÙð ·Ô¤ çÜ° ·¤ã ÚUãð ãñ´, Üðç·¤Ù ©‹ãô´Ùð ·¤Öè ã×æÚUè ÕæÌ Ùãè´ âéÙèÐ ¥Õ àææØÎ ßã ·ñ¤ÅUÚUèÙæ ·ñ¤È¤ ·¤è âéÙð´»ðÐ ÎÚU¥âÜ, ¥æç×ÚU Ùð âÜ×æÙ ¹æÙ ·¤è ¥æÙð ßæÜè çȤË× ‘°·¤ Íæ ÅU槻ÚU’ ·¤è àæéL¤¥æÌè ÛæÜç·¤Øæ´ Îð¹è´, çÁâ·Ô¤ ÕæÎ °·¤ çÎÜ¿S ¥õÚU ¿ç¿üÌ ãô ¿é·Ô¤ ÎëàØ, çÁâ×ð´ ·ñ¤ÅUÚUèÙæ ·ñ¤È¤ âÜæã ·Ô¤ M¤Â ×ð´ âÜ×æÙ ¹æÙ âð ·¤ãÌè ãñ´ ç·¤ ©Ù·¤è ©×ý àææÎè ·Ô¤ ÜæØ·¤ ãô »§ü ãñ, ·¤æ çÁR¤ ·¤ÚUÌð ãé° ¥æç×ÚU Ùð ·¤ãæ ç·¤ ©‹ãð´ ©×èÎ ãñ ç·¤ ßã (âÜ×æÙ ¹æÙ) §â âÜæã ·¤ô ßæSÌçß·¤ ÁèßÙ ×ð´ ×æÙ Üð´»ðÐ ¥æç×ÚU ·¤ô °·¤ Íæ ÅU槻ÚU ·¤è àæéL¤¥æÌè ÛæÜç·¤Øæ´ ·¤æȤè Ââ´Î ¥æ§Z ¥õÚU ©‹ãð´ Øã Öè Ü»Ìæ ãñ ç·¤ Øã çȤË× Õæò€Uâ ¥æòçȤâ ÂÚU ÕðãÎ ·¤æ×ØæÕ âæçÕÌ ãô»èÐ çȤË× ·Ô¤ çÙ×æüÌæ ¥æçÎˆØ ¿ôÂÇ¸æ ·¤è ÚUô×æ´¿ âð ÖÚUè §â ÚUô×æ´çÅU·¤ çȤË× ×ð´ âÜ×æÙ ¹æÙ ¥õÚU ·ñ¤ÅUÚUèÙæ ·ñ¤È¤ ·¤è ÚUô×æ´çÅU·¤ ÁôǸè ÙÁÚU ¥æ°»èÐ °·¤ Íæ ÅU槻ÚU ·¤æ çÙÎüðàæÙ ·¤ÕèÚU ¹æÙ Ùð ç·¤Øæ ãñ, ¥õÚU Øã SßÌ´˜æÌæ çÎßâ ·Ô¤ ×õ·Ô¤ ÂÚU vz ¥»SÌ ·¤ô ÂýÎçàæüÌ ãô»èÐ

¥æç×ÚU Ùð ·¤ãæ, ×ñ´Ùð çȤË× Ùãè´ Îð¹è ãñ, Üðç·¤Ù ×éÛæð çȤË× ·¤è àæéL¤¥æÌè ÛæÜç·¤Øæ´ Ââ´Î ¥æ ÚUãè ãñ´Ð ×éÛæð Ü»Ìæ ãñ ç·¤ Øã çȤË× ÕãéÌ ÕǸè âȤÜÌæ ãæçâÜ ·¤ÚUð»èÐ ×ñ´Ùð âÜ×æÙ, ·¤ÕèÚU âæãÕ ¥õÚU ¥æçÎˆØ ¿ôÂÇ¸æ ·¤ô â´Îðàæ ÖðÁæ ãñ ç·¤ ×éÛæð §â·¤è àæéL¤¥æÌè ÛæÜç·¤Øæ´ Ââ´Î ¥æ§ü ãñ´Ð”

©„ð¹ÙèØ ãñ ç·¤ °·¤ Íæ ÅU槻ÚU ·Ô¤ Âýô×ô Âæç·¤SÌæÙ ×ð´ ÂýçÌÕ´çÏÌ ·¤ÚU çΰ »° ãñ´, €UØô´ç·¤ ©Ù·Ô¤ ×éÌæçÕ·¤ §â çȤË× ×ð´ ßãæ´ ·¤è ¹éçȤØæ °Áð´âè ¥æ§ü°â¥æ§ü ·¤ô »ÜÌ ÕÌæØæ »Øæ ãñÐ ÁÕ ¥æç×ÚU âð §â·Ô¤ ÕæÚUð ×ð´ ÂêÀæ »Øæ Ìô ©‹ãô´Ùð ·¤ãæ, ×ñ´ Ìô Øã çȤË× ÁM¤ÚU Îð¹ê´»æ, Üðç·¤Ù ×éÛæð Ùãè´ ÂÌæ ç·¤ ßãæ´ (Âæç·¤SÌæÙ ×ð´) Øã €UØô´ Ùãè´ çιæ§ü Áæ ÚUãè ãñÐ

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.