बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत किसान आंदोलन के खिलाफ ट्वीट कर काफी चर्चा में है. इस आंदोलन की खिलाफत को लेकर कंगना रनौत और एक्टर और पंजाबी सिंगर दिलजीत दोसांझ के बीच कई बार ट्विटर पर वॉर हो चुकी है लेकिन इस विवाद में कंगना के निशाने पर अब फूड डिलीवरी कंपनी ‘जोमैटो’ आ गई है. कंगना का कहना है कि उनके खिलाफ हुए हर ट्वीट को जोमैटो सपोर्ट कर रहा था.
कंगना रनौत ने जोमैटो पर निशाना साधते हुए कहा कि बॉलीवुड इंडस्ट्री में तो लोग पल में लड़ते हैं और पल में ही एक हो जाते हैं. लेकिन इसके चक्कर में सड़क पर मत आ जाना. दरअसल कंगना ने एक खबर का जोमैटो से जुड़ी एक खबर का हवाला दिया, जिसमें जोमैटो की सर्विस को खराब बताया गया है. इस साल उनका परफॉर्मेंस काफी निराशाजनक बताया गया है.
जोमैटो पर साधा निशाना
कंगना रनौत ने ट्वीट में लिखा,”मैंने देखा है कि जोमैटो का ट्विटर हैंडल मेरे और दिलजीत के बीच रेफ्री का किरदार निभा रहा था. वो लगातार मेरे खिलाफ बोल रहे थे और उस ट्रेंड का भी सपोर्ट कर रहे थे, जहां पर मुझे रेप की धमकी मिल रही थी. हम एक इंडस्ट्री में करते हैं. आज लड़ेंगे कल एक हो जाएंगे. तुम अपना देखो हमारे चक्कर में सड़क पर मत आ जाना भाई.” इसके साथ वह हंसने वाले इमोजी शेयर करती हैं.
यहां देखिए कंगना रनौत का ट्वीट

https://twitter.com/KanganaTeam/status/1339753939135246336?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1339753939135246336%7Ctwgr%5E%7Ctwcon%5Es1_&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.abplive.com%2Fentertainment%2Fbollywood%2Fkangana-ranaut-slam-food-deliver-platformt-zomato-during-the-twitter-war-with-diljit-dosanjh-1685367

दिलजीत और प्रियंका पर निशाना
बता दें कि कंगना रनौत और दिलजीत के बीच ट्विटर पर कई बार जुबानी जंग हो चुकी है. इतना ही नहीं कंगना ने एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा पर भी किसान आंदोलन का समर्थन करने पर निशाना साध चुकी हैं. कंगना ने दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा को टैग करते हुए लिखा, “प्रिय दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा अगर सच में किसानों की चिंता है, अगर सच में अपनी माताओं का आदर सम्मान करते हो तो सुन तो लो आख़िर फ़ार्मर्ज़ बिल है क्या! या सिर्फ़ अपनी माताओं, बहनों और किसानों का इस्तेमाल करके देशद्रोहियों की गुड बुक्स में आना चाहते हो? वाह रे दुनिया वाह”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.