पणजी (गोवा)। जगद्गुरू कृपालु परिषत् की अध्‍यक्षा सुश्री विशाखा त्रिपाठी को नेल्‍सन मंडेला पीस अवार्ड से सम्मानित किया गया है। इकोनॉमिक ग्रोथ सोसायटी ऑफ इंडिया द्वारा दिया जाने वाला यह अवार्ड आर्थिक व सामाजिक क्षेत्र में व्‍यक्तिगत योगदान के लिए प्रदान किया जाता है। गोवा की राजधानी पंजिम के पंचसितारा होटल ताज विवांता में सुश्री त्रिपाठी को यह अवार्ड प्रदान किया गया।
अवार्ड पाने के बाद सुश्री त्रिपाठी ने बताया कि जगदगुरु कृपालु परिषद द्वारा प्रतापगढ़ की कुंडा तहसील में चलाए जा रहे कृपालु शिक्षण संस्थान में पढ़ने वाली करीब 4,500 छात्राओं में 65 प्रतिशत छात्राएं मुस्लिम समाज की हैं। उन्होंने बताया कि प्रतापगढ़ लड़कियों की शिक्षा के मामले में काफी पिछड़ा हुआ इलाका है। इसलिए कुंडा तहसील के मनगढ़ में छात्राओं के लिए तीन शिक्षण संस्थान स्थापित किए गए हैं।
क्षेत्र में ‘बड़ी दीदी’ के नाम से विख्यात सुश्री त्रिपाठी ने बताया कि विद्यालय में चलाए जा रहे स्नातक से लेकर बी.एड. तक के सभी पाठ्यक्रम डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय, फैजाबाद से मान्यता प्राप्त हैं और यहां से पढ़कर निकलने वाली अनेक छात्राएं सरकारी और निजी संस्थानों में नौकरियां कर रही हैं।
बताना जरूरी है कि उत्‍तरप्रदेश के प्रतापगढ़ जनपद की कुण्‍डा तहसील में स्थित मनगढ़ आश्रम में जगद्गुरू कृपालु परिषत शिक्षण संस्‍थान बालिका शिक्षा के लिए अभूतपूर्व कार्य करने वाली एकमात्र ऐसी संस्‍था है जो प्राइमरी से लेकर पोस्‍ट ग्रेजुएट स्‍तर तक मुफ्त शिक्षा बालिकाओं को मुहैया कराती है।
संस्‍थान द्वारा बालिकाओं को प्राइमरी से लेकर डिग्री स्‍तर तक न केवल मुफ्त शिक्षा ही प्रदान करवाई जाती है अपितु इन बालिकाओं के शिक्षा संबंधी सभी जरूरतों को भी पूरा किया जाता है। यह महान कार्य जगद्गुरू कृपालु जी महाराज के आशीर्वाद की छाया तले उनकी पुत्री सुश्री विशाखा त्रिपाठी के कुशल मार्गदर्शन में सुचारू रूप से चल रहा है।

गौरतलब है कि सुश्री विशाखा त्रिपाठी को इसके अलावा वर्ष 2013 के राजीव गांधी एक्‍सीलेंस अवार्ड, समाज ने महिलाओं के सशक्तिरकण हेतु काम करने के लिए दिया जाने वाला नारी टुडे अवार्ड, ‘इकनोमिक ग्रोथ सोसाइटी ऑफ इंडिया’ द्वारा मदर टेरेसा एक्सीलेंस अवार्ड व आशाएं संस्‍था की ओर से समाजसेवा के क्षेत्र में योगदान के लिए आशाएं अवार्ड से सम्‍मानित किया जा चुका है। NM Award

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.