mobile-smartphones-pile-ss-1920

केंद्रीय आईटी व कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत मोबाईल का हब बनते जा रहा है। चीन की मोबाईल निर्माता कंपनी व हुआवे का मैन्युफैक्चिरंग यूनिट करने के समय में केंद्रीय मंत्री प्रसाद ने यह बात कही कि हुआवे का मैन्युफैक्चिरंग यूनिट के होने से पहले ही भारत में 39 मोबाईल मैन्युफैक्चिरंग यूनिट लग चुकी हैं। यह 40वां यूनिट लगाया जा रहा है।

उन्होने यह भी कहा कि भारत में निर्मित हुआवे का स्मार्टफोन अगले महीने अक्टूबर में आ जायेगा। इस स्मार्टफोन को अगले महीने बजार से खरीदा जा सकता है। जिसकी किमत 10000 से ज्यादा होगी। प्रसाद ने कहा कि वित्तिय वर्ष में 11 करोड मोबाईल फोन का निर्माण हो चुका है।
मोबाइल फोन निर्माण से अब तक 4000 हजार तक प्रतक्ष्य रूप से और अप्रतक्ष्य रूप से 100000 से ज्यादा लोगों को रोजगार मिल चुकी हैं। हुआवे का मैन्युफैक्चिरंग यूनिट चेनैई में लगाई गई है, जो इस वर्ष के अन्तिम तक इस प्लांट की निर्माण कर दी जायेगी और इसकी क्षमता 30 लाख बनाने की होगी।

कंपनियां 15,000 करोड़ रूपये से अधिक का निवेश करने की तैयारी में है। और चार-पांच सालों में इसमें दो लाख से अधिक लोगो को रोजगार मिलेगा। चीन के हुआवे ने भारत में मैन्युफैक्चिरंग यूनिट लगाने की शुरूवात की। हुआवे कंपनी के सीइओ जेन ने कहा कि भारतीय टेलिकाम कंपनी र्स्माट फोन के लिए नई नई आधुनिक तकनिकी का प्रयोग करेगा। मेक इन इंडि़या की शुरूआती सफलता के रूप के रूप में भी देखा जा सकता है।
एप्पल के सीईओ टिम कुक ने निवेशकों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में  एप्पल आईफोन की कुल बिक्री 76 प्रतिशत बढ़ी है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.