117095-goldकाले धन पर रोक लगाने के मोदी सरकार के फैसले के बाद लोगो ने सोने पर निवेश करना शुरू कर दिया है। 500 और 1000 की नोट पर सरकार द्वारा रोक लगाए जाने का असर कई क्षेत्रों पर जबरदस्त ढंग से पड़ा है। सरकार के इस ऐतिहासिक कदम से सोने के दाम में बड़ा उछाल आया है। मुंबई में प्रति 10 ग्राम सोने की कीमत में 4000 रुपये का उछाल आया है। विशेषज्ञों का मानना है कि इस फैसले का असर सोने पर सकारात्मक रूप से पड़ेगा।
बुधवार को गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड के कारोबार के दौरान 3 फीसदी तक बढ़त देखने को मिली। ग्लोबल इक्विटी मार्केट में तेज गिरावट की वजह से इन्वेस्टर्स ने सोने में अपना निवेश बढ़ा दिया है। एचडीएफसी गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड 3 फीसदी बढक़र 2900 रुपये प्रति ग्राम के स्तर पर पहुंच गया है। फिलहाल सोना 4 फीसदी की तेजी के साथ 30 हजार 900 रुपये पर कारोबार कर रहा है।
रिपोर्ट के मुताबिक भारत का कालाधन 30 लाख करोड़ तक पहुंच गया है जो जीडीपी का 20 फीसदी है। हालांकि फिलहाल 16.6 लाख करोड़ कालाधन ही बाजार में है। जानकार बताते हैं कि ये कालाधन ज्यादातर सोने या रियल एस्टेट इन्वेस्टमेंट के रूप में है। कालेधन पर 2012 में प्रकाशित वित्त मंत्रालय के श्वेत पत्र में यह कहा गया कि भारतीय अर्थव्यवस्था में रियल एस्टेट कुल जीडीपी का 11 फीसदी शेयर करता है। ैविशेषज्ञ यह भी मानते हैं कि अब सोने में निवेश बढ़ेगा। वहीं बाजार के विशेषज्ञ मानते हैं कि मोदी सरकार का यह फैसला रियल स्टेट क्षेत्र को भारी नुकसान पहुंचाएगा। हालांकि इससे जाली नोट के कारोबार पर पूरी तरह अंकुश जरूर लग जाएगा जो कि सबसे बड़ी राहत की बात है। कुल मिलाकर अभी थोड़ी दिक्कत हैं लेकिन बाद में इसके परिणाम सुखद होंगे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.