आखिरकार ई कॉमर्स वेबसाइट्स फ्लिपकार्ट और मिन्‍त्रा ने गुरुवार को उस खबर को सार्वजनिक कर दिया, जिसका सभी को बेसब्री से इंतजार था। फ्लिपकार्ट और मिन्त्रा ने कैश-एंड-स्‍टॉक विलय के सौदे को मंजूरी दे दी है। अब एक हो चुकी इन दोनों कंपनियों को भारत के ई-कॉमर्स बाजार में अपनी पकड़ मजबूत होने और हिस्‍सेदारी बढ़ने की पूरी उम्‍मीद है। mantraइस सौदे की राशि का खुलासा किसी भी कंपनी ने नहीं किया है, लेकिन मिंत्रा की वैल्‍यू 33 करोड़ डॉलर (2200 करोड़ रुपए) के आसपास आंकी जा रही है। भारत में ई-रिटेल के भविष्‍य को लेकर अभी भी कई ऐसे सवाल हैं, जिनके जवाब मिलना बाकी हैं। हाल ही में फ्लिपकार्ट और मिंत्रा दोनों को ही फेमा के तहत नोटिस मिला है और टैक्‍स, साइबर सुरक्षा और अन्‍य मुद्दों से जुड़े कई सवाल भी उठाए जा रहे हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.