sooti kpde मुंबई, 29 जून :भाषा: भारतीय सूती वस्त्र निर्यात संवर्धन परिषद :टेक्सप्रोसिल: के डिप्टी चेयरमैन आरके डालमिया ने कहा है कि अगर सरकार आगामी आम बजट में सूती वस्त्र उद्योग की मांगों को स्वीकार कर लेती है तो इस क्षेत्र में 4000 करोड़ रूपए तक के निवेश से 50000 नए रोजगार सृजन की संभावना है।
डालमिया ने पीटीआई से कहा,’हमने सरकार से आग्रह किया है कि प्रौद्योगिकी उन्नयन कोष योजना :टफ्स: को 29 जून 2010 से 27 अप्रैल 2011 की अवधि के लिए भी लागू किया जाए जबकि इसे सभी मामलों के लिए निलंबित कर दिया गया था।Ó
उन्होंने कहा कि अगर सरकार इस उद्योग की मांगेें मान लेती है तो े हम यह आश्वासन देंगे कि इससे उद्योग को 4000 करोड़ रूपए तक के निवेश में मदद मिलेगी और 50000 नए रोजगारों की राह खुलेगी। े
परिषद कपड़ा मशीनरी पर शुल्क में कटौती तथा तीन प्रतिशत ब्याज मदद सूती कपड़ा निर्यात पर भी देने की मांग कर रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.