जम्मू-कश्मीर में वर्तमान हालात के मद्देनजर एयर इंडिया ने फैसला लिया है कि 15 अगस्त तक श्रीनगर जाने वाली या वहां से आने वाली अपनी सभी उड़ानों को रिशेड्यूल किए जाने या रद्द किए जाने पर यात्रियों को पूरा किराया वापिस लौटाएगी। एयर एशिया ने भी 2 से 5 अगस्त तक की अपनी उड़ानों पर ऐसी ही घोषणा की है। बता दें कि सरकार ने आतंकी हमले के अलर्ट को देखते हुए राज्य में चल रही अमरनाथ यात्रा को रोकने का फैसला किया है।

इसके अलावा विस्तारा एयरलाइन्स ने 2 अगस्त से 9 अगस्त तक श्रीनगर से जुड़ी उड़ानों को रिशेड्यूल या रद्द किए जाने पर पूरा किराया लौटाने का ऐलान किया है। एयर इंडिया और विस्तारा के बाद एयर एशिया और स्पाइसजेट ने भी अपनी फ्लाइट के रीशेड्यूल या रद्द किए जाने पर पूरा पैसा लौटाने की घोषणा की है। स्पाइसजेट ने 3 अगस्त से 9 अगस्त तक की उड़ानों पर यह घोषणा की है।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में कुछ दिनों पहले अर्धसैनिक बलों की 100 कंपनियों के 10 हजार जवान बढ़ाने की घोषणा की गई थी इसके बाद गुरुवार को 281 कंपनियों के और 25 हजार जवानों को कश्मीर में तैनात करने का फैसला लिया गया है। इसके बाद अमरनाथ यात्रा को रोके जाने से घाटी में अफरातफरी का माहौल बन गया है। राशन की दुकानों और पेट्रोल पंपों पर लोगों की भीड़ देखी गई। हालांकि, स्थानीय प्रशासन ने कहा है कि शनिवार को स्कूल और कॉलेज बंद नहीं किए जाएंगे और लोगों को अफवाहों पर ध्यान नहीं देना चाहिए।

कश्मीर के राजनीतिक दलों ने अमरनाथ यात्रा रोके जाने और सुरक्षा बलों को बढ़ाए जाने की घोषणा के मद्देनजर शुक्रवार को आपस में मुलाकात की। इसके बाद इन दलों के प्रतिनिधियों ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात भी की। नेशनल कॉन्फ्रेंस के उमर अब्दुल्ला, पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की महबूबा मुफ्ती और कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद ने सरकार की इस घोषणा को लोगों में भय का माहौल बढ़ाने वाला करार दिया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.