sharae marktनयी दिल्ली। आम बजट से पहले इस सप्ताह शेयर बाजारों में तेजी देखने को मिल सकती है। विशेषज्ञों का मानना है कि नरेंद्र मोदी सरकार के पहले आम बजट से पहले मजबूत सुधारात्मक उपायों से अर्थव्यवस्था में तेजी आने की उम्मीद में बाजार उूपर की ओर जा सकता है।
विशेषज्ञों ने कहा कि बंबई शेयर बाजार व नेशनल स्टाक एक्सचेंज में इस सप्ताह भी तेजी का सिलसिला कायम रहने की उम्मीद है। विशेषज्ञों के अनुसार, सप्ताह बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स में 400-500 अंक की तेजी आ सकती है जबकि निफ्टी 150 अंक तक चढ़ सकता है। वित्त मंत्री अरूण जेटली द्वारा 10 जुलाई को पेश किए जाने वाले केन्द्रीय बजट से उम्मीदें बढ़ रही हैं और ऐसी उम्मीद है कि बजट पूर्व तेजी इस सप्ताह से शुरू हो सकती है। सीएनआई रिसर्च के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक किशोर पी ओस्तवाल ने कहा कि वित्तीय क्षेत्र में सुधारों तथा रक्षा एवं रेलवे में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की सीमा बढ़ाने की नीतिगत घोषणा की उम्मीद में शेयर बाजार में बजट पूर्व तेजी देखने को मिल सकती है। एक अन्य विश्लेषक जियोजित बीएनपी परिबा के शोध प्रमुख एलेक्स मैथ्यू ने कहा कि कारोबारियों को मजबूत सुधारोन्मुख बजट की उम्मीद है लेकिन नरेन्द्र मोदी नीत सरकार द्वारा लिए गए हालिया फैसले दलाल स्ट्रीट के मूड को बिगाड़ सकते हैं। एक महत्वपूर्ण फैसले के तहत रेल मंत्री ने पिछले सप्ताह यात्री किराए में 14.2 प्रतिशत की वृद्धि की। वहीं मालभाड़ा में 6.5 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई। इस फैसले का कुछ स्तर पर सख्त विरोध हुआ और अंतत: सरकार ने अपने कुछ फैसलों को वापस ले लिया। सरकार ने उपनगरीय यात्रा में 80 किमी तक के लिए द्वितीय श्रेणी को अपने फैसले से मुक्त रखने की घोषणा की है और मासिक टिकट धारकों के लिए वृद्धि में कमी कर दी। एक अन्य पहल के तहत सरकार ने प्राकृतिक गैस की कीमतों में वृद्धि के फैसले को तीन महीने के लिए टाल दिया है। गत शुक्रवार को सेंसेक्स और निफ्टी सकारात्मक रूख के साथ क्रमश: 25,099.92 अंक और 7,508.80 अंक पर बंद हुए।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.