जोरदार उत्पादन और नए ऑर्डर के मद्देनजर भारत के विनिर्माण क्षेत्र का उत्पादन नवंबर में पिछले करीब दो साल के उच्च स्तर पर पहुंच गया। यह बात आज एचएसबीसी के सर्वेक्षण में कही गई। एचएसबीसी इंडिया क्रय प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई) – विनिर्माण कारोबार का मिश्रित संकेतक – नवंबर में 53.3 स्तर पर रहा जो अक्टूबर में दर्ज 51.6 के स्तर से काफी उपर रहा।

विनिर्माण क्षेत्र का उत्पादन नवंबर में लगातार 13वें महीने बढ़ा और 21 महीने के उच्च स्तर पर पहुंच गया। इस सूचकांक का 50 से उपर रहना वृद्धि, जबकि इससे नीचे का स्तर नरमी का संकेतक है। एचएसबीसी के सह प्रमुख एशियाई आर्थिक अनुसंधान फ्रेडरिक न्यूमैन ने कहा विनिर्माण की गतिविधियां उच्चतर उत्पादन और नए आर्डर के मद्देनजर नवंबर में और तेजी से बढ़ीं। घरेलू बाजार में आर्डर में सबसे अधिक वृद्धि दर्ज हुई, जबकि निर्यात के आर्डर में तेजी बरकरार रही।

नवंबर के आंकड़ों से उम्मीद से अधिक मांग का संकेत मिलता है क्योंकि नए आर्डर में पिछले 21 महीने में सबसे अधिक तेजी दर्ज हुई। इसी तरह भारतीय उत्पादकों को मिले निर्यात आर्डर में नवंबर के दौरान तेजी बरकरार रही।hsbc

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.