मुंबई,03 मई (आरएनएस)। धनकुबेर मुकेश अंबानी के डिजिटल रिलायंस प्लेटफार्मस ने सोमवार को विश्व के अग्रणी प्रौद्योगिकी निवेशक सिल्वर लेक के साथ 5655.75 करोड़ रुपये निवेश का समझौता किया है। जियो ने करीब एक पखवाड़ा पहले ही विश्व की सोशल मीडिया की अग्रणी फेसबुक के साथ 9.99 प्रतिशत इच्टिी के लिए 43754 करोड़ रुपए की डील की थी।
सितंबर-2016 में दूरसंचार क्षेत्र में कदम रखने वाली जियो मात्र 44 माह में इस क्षेत्र की अग्रणी कंपनी बन गई और उसके 38.75 करोड़ उपभोक्ता हैं। सिल्वर लेक 5655.75 करोड़ के निवेश से जियो में 1.15 प्रतिशत इच्टिी हासिल करेगी। फेसबुक की तुलना में सिल्वर लेक का निवेश 12.5 प्रतिशत प्रीमियम पर हुआ है। संभावना है कि आने वाले दिनों में जियो प्लेटफार्मस में और ऐसे रणनीतिक तथा वित्तीय सौदे होंगे।
जियो ने आज कहा कि सिल्वर लेक का निवेश 4.90 लाख करोड़ रुपए के इच्टिी और 5.15 लाख करोड़ रुपये के एंटरप्राइज मूल्यांकन पर हुआ है। फेसबुक का जियो में निवेश 4.62 लाख करोड़ रुपये के एंटरप्राइज मूल्यांकन पर हुआ था। जियो प्लेटफार्मस में रणनीतिक और वित्तीय निवेशकों की इच्टिी करीब 20 प्रतिशत हो गई है, जिसमें से करीब आधी 9.99 प्रतिशत अकेले फेसबुक की है।
जियो प्लेटफार्मस रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की अगली पीढ़ी की पूर्णस्वामित्व वाली प्रौद्योगिकी इकाई है। जियो ने कहा है कि हाल के निवेश के बावजूद जियो प्लेटफार्मस की रिलायंस जियो पूर्ण स्वामित्व वाली इकाई बनी रहेगी। वैश्विक कोरोना वायरस महामारी के संकट में जब पूरी दुनिया और देश गंभीर आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है ऐसे समय में विश्व के जाने माने प्रौद्योगिकी निवेशकों में से एक सिल्वर लेक का यह निवेश कई मायनों में महत्वपूर्ण है। कंपनी ने व्यापक डिजिटलीकरण को भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए जरूरी और रोजगार सृजन करने वाला बताया है।
सिल्वर लेक के साथ हिस्सेदारी पर टिप्पणी करते हुए, रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा, भारतीय डिजिटल ईको-सिस्टम के विकास के लिए, सिल्वर लेक का एक महत्वपूर्ण साझेदार के रूप में स्वागत करते हुए मुझे खुशी हो रही है। इससे सभी भारतीयों को लाभ मिलेगा। सिल्वर लेक का वैश्विक स्तर पर अग्रणी प्रौद्योगिकी कंपनियों के साथ साझेदारी का उत्कृष्ट रिकॉर्ड है। सिल्वर लेक प्रौद्योगिकी और वित्त के मामले में सबसे सम्मानित संस्थाओं में से एक है। हम उत्साहित हैं कि हम सिल्वर लेक के वैश्विक संबंधों का लाभ भारतीय डिजिटल सोसाइटी में बदलाव के लिए कर पायेंगे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.