tourism बैंकाक, 29 जून :भाषा: भारत पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अरूणाचल प्रदेश एवं जम्मू कश्मीर में लेह और लद्दाख के प्रतिबंधित इलाकों में प्रवेश में ढील दे सकता है। हालांकि वह इस मामले में सुरक्षा से कोई समझौता नहीं करेगा।
गृह राज्यमंत्री किरेन रिजिजू ने यहां कहा कि अरूणाचल प्रदेश, लेह व लद्दाख के कुछ क्षेत्रों में पीपुल एरिया परमिट :पीएपी: और रिस्ट्रेक्टेड एरिया परमिट :आरएपी: में ढील दी जाएगी जिससे पर्यटन को प्रोत्साहन मिल सके।
अरूणाचल प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले रिजिजू ने कहा कि पर्यटक खासकर विदेशी पर्यटक बौद्ध मंदिर जैसी जगहों पर जाना चाहते हैं और इनमें से कुछ प्रतिबंधित क्षेत्र में आते हैं।
उन्होंने कहा, ” यदि आप एक क्षेत्र को प्रतिबंधित रखते हैं तो वह कभी नहीं खुलेगा। हम सभी प्रतिबंधों को नहीं हटाने जा रहे हैं। हम कम पाबंदियों के साथ इन्हें आंशिक तौर पर विदेशियों के लिए खोलना चाहते हैं।ÓÓ
वह यहां आपदा जोखिम में कमी पर आयोजित छठे एशियाई मंत्रिस्तरीय सम्मेलन के दौरान संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.