– दो जगह से फार्म भरने वाले परीक्षार्थियों का सत्यापन 17 फरवरी तक
– राजधानी में आठ सचल दल रोकेंगे बोर्ड परीक्षा में नकल
यूपी बोर्ड की ओर से 19 फरवरी को शुरू हो रहे हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के बोर्ड एग्जाम में दो जगहों से फॉर्म भरने वाले स्टूडेंट्स के भविष्य पर अंतिम फैसला बोर्ड करेगा. इस बार के बोर्ड एग्जाम में शामिल होने वाले स्टूडेंट्स में राजधानी के करीब 135 कॉलेज ऐसे सामने हैं जिनके कुछ छात्र-छात्राओं के दो जगह से एग्जाम फॉर्म भरवाए गए थे. मामले का खुलासा होने के बाद माध्यमिक शिक्षा परिषद ने डीआईओएस के माध्यम से ऐसे कॉलेजों को इन स्टूडेंट्स के सत्यापन का आदेश दिया था. शनिवार को जिला विद्यालय निरीक्षक पीसी यादव ने इन सभी कॉलेजों को नोटिस भेजकर 17 फरवरी तक दो जगह से फॉर्म भरने वाले छात्र-छात्राओं केविवरण का सत्यापन करने केनिर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा है कि यह सत्यापन रिपोर्ट 17 फरवरी तक अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा परिषद को उपलब्ध कराना अनिवार्य होगा.
बोर्ड करेगा स्टूडेंट्स के भविष्य का फैसला
डीआईओएस पीसी यादव ने बताया कि बोर्ड ने हम से ऐसे स्टूडेंट्स के वेरिफिकेशन कर रिपोर्ट मंगाया है. बोर्ड ने अपने ऑर्डर में कहा है कि सभी  स्कूलों से ऐसे स्टूडेंट्स की डिटेल मांगी जाएं, जिनके स्टूडेंट्स दो जगह से एग्जाम फॉर्म भरा हो. डीआईओएस ने बताया कि ऐसे स्टूडेंट्स को एग्जाम देना है या नहीं इस पर आ िारी निर्णय खुद बोर्ड को लेना है.
बनाए आठ लाइंग स्कोर्ट
राजधानी में यूपी बोर्ड-2015 की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट परीक्षाओं में नकल रोकने की जि मेदारी आठ सचल दलों पर होगी. इसके लिए जिला विद्यालय निरीक्षक ने आठ लाइंग स्कोर्ट का गठन कर दिया है. प्रत्येक दल में चार शिक्षक-शिक्षिकाओं की ड्यूटी लगाई गई है. इनमें जिला विद्यालय निरीक्षक पीसी यादव, सह जिला विद्यालय निरीक्षक हिजफजुर्रहमान, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण मणि त्रिपाठी, राजकीय जुबिली इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य देवकी सिंह, राजकीय इंटर कॉलेज हुसैनाबाद के उप प्रधानाचार्य चंद्रभानु शुक्ल, वित्त एवं लेखाधिकारी रामकृष्ण अवस्थी का एक-एक सचल दस्ता शामिल है. शेष दो अन्य सचल दल भी बनाए गए हैं.
46 सेक्टर और स्टेटिक्स मजिस्ट्रेट भी संभालेंगे जिमेदारी|
राजधानी में बोर्ड परीक्षाओं के लिए बनाए गए संवेदन और अति संवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सेक्टर और स्टेटिक्स मजिस्ट्रेट की भी ड्यूटी भी लगा दी गई है. इसमें 13 सेक्टर मजिस्ट्रेट और 33 स्टेटिक्स मजिस्ट्रेट शामिल हैं.
91

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.