लखनऊ यूनिवर्सिटी की ओर से पूर्व में निष्कासित किए जा चुके छात्रों को पत्र भेजा गया है. एलयू से जुड़े सूत्रों के अनुसार पत्र में अभिभावकों को आगामी 23 फरवरी को एलयू आकर वीसी से मिलने की बात कही गई है. बताते चलें कि लखनऊ यूनिवर्सिटी की ओर से पिछले सत्र से लेकर अभी तक तकरीबन पचास के करीब छात्रों को यूनिवर्सिटी के नियमों का उल्लंघन करने व दूसरे आरोपों के चलते निष्कासित किया गया है. इसमें से कई छात्रों के परिसर में घुसने व हॉस्टल में प्रवेश करने की भी मनाही है. एलयू की इस कार्रवाई के बाद छात्रों ने कई बार अपने ऊपर लगे आरोपों के चलते अपना भविष्य खराब होने की बात वीसी स्तर तक भेंट कर कही थी. जिसके जवाब में कई छात्रों को चेतावनी देकर या सशर्त प्रवेश देने का काम एलयू की ओर से किया गया. लेटर ोजकर अभिभावकों को बुलाया सूत्रों की मानें तो इसी क्रम में एलयू प्रशासन की ओर से पूर्व में निष्कासित तकरीबन 15 छात्रों के अभिभावकों को पत्र भेजकर वीसी से वार्ता के लिए बुलाया गया है. इसमें से कुछ छात्रों का निष्कासन मारपीट व बलवा करने के चलते हुआ था जबकि कुछ के बारे में दूसरे छात्रों ने शिकायत दर्ज कराई थी. जिन छात्रों के अभिभावकों को पत्र भेजा गया है उनमें एलयू के दोनों परिसरों के छात्र शामिल हैं. जानकारों की मानें तो अगर एलयू की ओर से इन छात्रों का पुन: प्रवेश ले लिया जाता है तो पूर्व में जितने भी निष्कासन एलयू प्रशासन की ओर से किए गए हैं उन्हें भी रद्द करने का दबाव एलयू प्रशासन पर निष्कासितों द्वारा बना लिया जाएगा|

lucknow-university-53cf3650ec0d7_exl

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.