ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में अगले साल होने वाले विश्व कप के लिये 30 संभावित खिलाड़ियों का चयन आज किया जायेगा जो फिलहाल खराब फॉर्म में चल रहे कुछ खिलाड़ियों को भी मौका दे सकते हैं। संदीप पाटिल की अगुवाई वाली पांच सदस्यीय चयन समिति की बैठक एक बजे शुरू होगी। बीसीसीआई सचिव संजय पटेल ने प्रेस ट्रस्ट को यह जानकारी दी।

विश्व कप 2011 विजेता रही टीम के सदस्य युवराज सिंह, वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, हरभजन सिंह और आशीष नेहरा फिलहाल खराब फॉर्म में चल रहे हैं। विश्व कप 2011 में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट रहे युवराज हाल ही में बल्ले से अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके हैं लिहाजा देखना होगा कि चयनकर्ता उन्हें प्रारंभिक सूची में चुनते हैं या नहीं।

चयनकर्ता सात जनवरी को अंतिम टीम का चयन करेंगे जिसे 14 फरवरी से 29 मार्च तक होने वाले विश्व कप के लिये आईसीसी को भेजा जायेगा। युवराज ने विजय हजारे ट्रॉफी में सिर्फ एक अर्धशतक जमाया और देवधर ट्रॉफी में उत्तरी क्षेत्र के लिये खेली एक पारी में नाकाम रहे।

अब देखना यह होगा कि पंजाब के बल्लेबाजी हरफनमौला को जगह मिल पाती है या नहीं जो बायें हाथ की स्पिन गेंदबाजी भी कर लेते हैं जबकि टीम में रविंद्र जडेजा और अक्षर पटेल जैसे दो और खिलाड़ी शामिल हैं।

वीरेंद्र सहवाग को ऑस्ट्रेलियाई पिचें रास आती है लेकिन पिछले कुछ अर्से में वह कोई खास प्रदर्शन नहीं कर सके हैं।

उत्तर क्षेत्र वनडे लीग में उन्होंने हरियाणा के खिलाफ 80 रन की एक पारी खेली लेकिन पिछले रिकॉर्ड को देखते हुए वह एक्स फैक्टर हो सकते हैं। छत्तीस बरस के सहवाग की राह में उनकी उम्र रोड़ा साबित हो सकती है।

दिल्ली के ही उनके साथी गौतम गंभीर भी 2011 की विजयी टीम के सदस्य थे जिन्होंने बेहतर फॉर्म दिखाया है। उत्तर क्षेत्र से अनुभवी गेंदबाज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह और बायें हाथ के तेज गेंदबाज आशीष नेहरा भी हैं।

हरभजन को पिछले कुछ समय से चयनकर्ताओं की तवज्जो नहीं मिली और परवेज रसूल को उन पर तरजीह दी जा रही है। स्पिनर आर अश्विन वापसी के बाद से कोई कमाल नहीं करने के बावजूद पहली पसंद होंगे।

बायें हाथ के तेज गेंदबाजों में जहीर खान और इरफान पठान फिटनेस समस्याओं से जूझ रहे हैं जबकि 35 वर्षीय नेहरा फिट हैं। वह चैम्पियंस लीग और घरेलू वनडे मैच खेल चुके हैं लेकिन फिर उनकी उम्र आड़े आ सकती है।

श्रीलंका के खिलाफ आखिरी दो वनडे जीतने वाली 14 सदस्यीय टीम में ज्यादा बदलाव की उम्मीद नहीं है। इसमें उन खिलाड़ियों को शामिल किया जायेगा जिन्हें आराम दिया गया था। इनमें एम एस धौनी, इशांत शर्मा, वरुण एरन, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, शिखर धवन और जडेजा शामिल हैं।

देवधर ट्रॉफी सेमीफाइनल में 151 रन बनाने वाले बंगाल के बल्लेबाज मनोज तिवारी भी दावेदारों में हैं। चयनकर्ता मुंबई के रणजी कप्तान सूर्यकुमार यादव के नाम पर भी गौर कर सकते हैं जो आक्रामक बल्लेबाजी में माहिर हैं।Indian Cricket Team Facebook Covers (8)

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.