केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री एम वेंकैया नायडू ने आंध्र प्रदेश में आए हुदहुद तूफान से हुई ताबाही को देखते हुये विशाखापत्तनम जिले के चपेला उपड्डा गांव के पुनर्वास एवं विकास के लिये उसे गोद लिया है।

नायडू ने इस गांव के विकास के लिये एक महीने की अपनी तनख्वाह तथा सांसद निधि से 25 लाख रुपये देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि इस गांव के विकास के लिये न्यासों तथा स्वयंसेवी संगठनों की मद्द से भी संसाधन जुटाए जाएंगे। स्वर्ण भारत न्यास ने इस गांव के लिये दस लाख रुपये प्रदान किये है।

विशाखापत्तनम इस्पात संयंत्र के प्रबंधन ने भी इस गांव के विकास के लिये नायडू को पांच लाख रुपये का चैक प्रदान किया है। नायडू ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री से बातचीत के दौरान विशाखापत्तनम के समन्वित विकास के बारे में विचार-विमर्श किया है और इसके लिये केन्द्र सरकार की स्मार्ट शहर योजना का भी सहारा लेने का सुझाव दिया है।

उन्होंने वित्त मंत्री अरुण जेटली से भी टेलीफोन पर बातचीत कर उन्हें तूफान प्रभावित इलाकों के लोगों के बैंक कर्ज के लिये आसान किस्ते तथा बीमा के दावों को शीघ्र निबटाने का भी अनुरोध किया है। नायडू ने यह भी कहा है कि वह तूफान से समुद्रतट के कटाव को दूर करने के लिये पर्यावरण मंत्रालय के सामने यह मुद्दा उठाएंगे तथा स्वच्छ भारत अभियान के तहत समुद्रतट की साफ सफाई करवाएंगे।

नायडू ने विशाखापत्तनम में तूफान प्रभावित क्षेत्रों का व्यापक दौरा कर केन्द्र सरकार के 20 विभागों के अधिकारियों के साथ बैठकें भी की है। इसके अलावा विशाखापत्तनम, विजयनगरम तथा श्रीकाकुलम जिलों के कलेकटर के साथ भी पुनर्वास कायरे की समीक्षा भी की है।venkaiah-naidu~24~10~2014~1414141636_storyimage

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.