कर्नाटक हाईकोर्ट ने भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा एवं अन्य के खिलाफ लोकायुक्त पुलिस को जांच के लिए मंगलवार को अनुमति दे दी। हाईकोर्ट ने एक याचिका पर सुनवाई करते हुए यह अनुमति दी जिसमें लोकायुक्त अदालत के आदेश को चुनौती दी गई थी। लोकायुक्त की अदालत ने शिमोगा जिले में जमीन को गैर अधिसूचित करने के मामले में उनके खिलाफ शिकायतों को खारिज कर दिया था।

हाईकोर्ट ने शिमोगा लोकायुक्त की अदालत के फैसले को निरस्त कर दिया। लोकायुक्त की अदालत ने येदियुरप्पा, उनके बेटे और विधायक बीवाई राघवेंद्र के खिलाफ शिकायतें खारिज कर दी थी। इस शिकायत में उन पर अवैध तरीके से जमीन खरीदने के आरोप थे। शिकायतकर्ता विनोद का आरोप है कि येदियुरप्पा परिवार के स्वामित्व वाले धवलगिरी प्रापर्टीज ने भद्रवती तालुका के हुनासेकाते गांव के नजदीक 69 एकड़ जमीन बेनामीदारों के मार्फत खरीदे थे।

yediyurappa~21~10~2014~1413897308_storyimage

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.