तेल कंपनियों ने पेट्रोल के दाम मंगलवार को मध्यरात्रि से 54 पैसे लीटर (दिल्ली में वैट सहित 65 पैसे) घटा दिए हैं लेकिन डीजल के दाम में पिछले पांच साल में पहली बार संभावित कटौती को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लौटने तक रोक दिया गया है।

सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों ने इससे पहले 16 सितंबर को लागत बढ़ने के बावजूद दाम नहीं बढ़ाए थे, लेकिन अब अंतरराष्ट्रीय बाजार में दाम नीचे आने के बाद इसमें कटौती की है। आज मध्यरात्रि से पेट्रोल के दाम मूल्य वर्धित कर (वैट) शामिल किए बिना 54 पैसे लीटर कम किए गए हैं।

इस कटौती के साथ दिल्ली में वैट सहित पेट्रोल का दाम 65 पैसे लीटर घटकर 67.86 रुपये लीटर होगा। मुंबई में वैट सहित पेट्रोल का दाम 68 पैसे घटकर 75.73 रुपये लीटर रह जाएगा। इससे पहले 31 अगस्त को पेट्रोल के दाम में 1.50 रुपये लीटर कटौती की गई थी। दिल्ली में वैट सहित यह कटौती 1.82 रुपये लीटर रही।

देश की सबसे बड़ी तेल कंपनी इंडियन ऑयल कारपोरेशन (आईओसी) के अनुसार अंतरराष्ट्रीय बाजार में दाम घटने से पेट्रोल के साथ साथ बिना सब्सिडी वाले 14.2 किलो के रसोई गैस सिलेंडर का दाम भी 21 रुपये कम किया गया है। दिल्ली में कटौती के बाद इसका दाम 880 रुपये प्रति सिलेंडर होगा।

बहरहाल, डीजल के दाम में कटौती को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अमेरिका से लौटने तक रोक दिया गया। यह कटौती यदि होती है तो जनवरी 2009 के बाद पहली बार डीजल के दाम कम होंगे। केन्द्र सरकार ने इससे पहले जनवरी, 2013 में डीजल के दाम में हर महीने 40 से 50 पैसे लीटर की वृद्धि का फैसला किया था। मंत्रिमंडल के इस फैसले को देखते हुए पेट्रोलियम मंत्रालय को लगता है कि वह अपने स्तर पर डीजल के मामले निर्णय नहीं कर सकता।PetrolPump~30~09~2014~1412094368_storyimage

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.