बीजिंग ओलंपिक स्वर्ण पदकधारी अभिनव बिंद्रा ने भारत को आज एशियाई खेलों के चौथे दिन 10 मी एयर राइफल टीम स्पर्धा और 10 मी एयर राइफल में भारत को दो कांस्य पदक दिलाये। उन्होंने क्वालीफिकेशन में पांचवें सर्वश्रेष्ठ स्कोर के साथ आठ निशानेबाजों के फाइनल में जगह बनायी।

बिंद्रा, रवि कुमार और संजीव राजपूत की भारतीय टीम 1863 अंक से तीसरे स्थान पर रही। चीन ने 1886.4 अंक से स्वर्ण और दक्षिण कोरिया ने 1867.6 अंक से रजत पदक जीता।

बिंद्रा के 625.4 अंक रहे जबकि रवि कुमार ने 618.9 और अनुभवी संजीव राजपूत ने 618.7 अंक का स्कोर बनाया।

बिंद्रा शानदार निशानेबाजी कर रहे थे लेकिन 55वें और 60वें में उन्होंने 9.1 और 9.7 अंक का खराब स्कोर बनाया। वह क्वालीफिकेशन में पांचवां स्थान ही हासिल कर सके क्योंकि चौथे स्थान पर रहने वाले कोरियाई किम सेंगडो उनसे मामूली अंतर से 626.1 से बेहतर रहे।

बिंद्रा का 10 शॉट का प्रत्येक स्कोर 102.6, 105.3, 104.5, 104.1, 105.7 था, इस दौरान उनके स्कोर में सुधार ही हो रहा था लेकिन अचानक 55वें शाट में खराब स्कोर से उन्होंने अंत में 103.2 अंक बनाये। निशानेबाजों द्वारा इन खेलों में यह ओंगयिओन रेंज पांचवां पदक था, जिसमें एक स्वर्ण और चार कांस्य हो गये हैं। पुरुष निशानेबाज जीतू राय ने शानदार प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक जीता था।

काओ यिफेल (630.7) की अगुवाई में निशानेबाजों ने शीर्ष तीन स्कोर बनाये जो खेलों का नया रिकॉर्ड है। व्यक्तिगत सूची में रवि कुमार 20वें और राजपूत एक स्थान पीछे रहकर बाहर हो गये।

पहली सीरीज के बाद बिंद्रा शीर्ष आठ से बाहर चल रहे थे, बाद में वह लय में आ गये और 10 शॉट के चौथे सेट के बाद उन्होंने ब्रेक लेकर राइफल कोच स्टेनिस्लास लैपिडस से बात की तथा फिर 40वें शॉट पर 10.9 अंक बनाये।

उन्होंने फिर लगातार 10.6, 10.7, 10.6 और 10.3 के शॉट लगाये लेकिन 9.1 अंक ने उनके प्रयासों को नुकसान पहुंचाया। लेकिन उन्होंने गहरी सांस लेकर थोड़ा सोच विचार किया और 56वें स्थान पर 10.1 का शॉट लगाया। इसके बाद उन्होंने 10.9, 10.8 और 10.5 अंक हासिल किये। उनका अंतिम शॉट 9.7 अंक का रहा।download

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.