कॉफी शॉप, फास्ट फूड आउटलेट और फूड कार्नर पर करते है नाश्ता

इंटरनेशनल फूड के स्वाद को चखने को हो चुके आदी

कम पैसे में स्वादिस्ट खाने का मिलता मजा

कम्पनियों ने कम कैलोरी होने का किया वादा

कॉलेज से बंक मारकर पहँुच जाते है बर्गर, पिज्जा खाने

पीयूष दुबे

लखनऊ। चटपटे और लजीज खाने का स्वाद •ाला कौन नहीं लेना चाहेंगा। वो •ाी तब जब सामने बाहरी देशोकी स्वादिस्ट खाने की लिस्ट हो। जिसमें कई तरह की वैराइटी के साथ-साथ बेहतर और मजेदार स्वाद का आंनदमिल रहा हो। बाहर खाने-पीने के मामले में सबसे ज्यादा युवा ही आगे रहते है।

घर में बने देशी घी के पराठे और अन्य हैवी और आॅइली पकवानों से बचने के लिए ही आज युवाओं ने फास्ट फूड को बेहतर माना है। बाहरी देशो के साथ-साथ •ाारत में •ाी लोगो के खाने-पीने केट्रेंड में बदलाव आया है। आज लोग घर की जगह बाहर जाकर खाने-पीने के शौकीन होते जा रहे है। जिसमें युवाओं का तो अहम रोल है। कॉलेज के कैन्टीन के अलावा ये आसपास के मॉल में इंटरनेशनलफूडिंग रेस्टोरंट्स में जाकर फास्ट फूड का मजा लेते है। लेकिन घर पर खाना खाने को कहा जाए तो एक या दो रोटी खाते ही इनका पेट •ार जाता है। आज युवाओं को अधिकतर समय कॉलेज सेलेकर अन्य कामों में बाहर गुजरता है। जिससे उन्हें खाने-पीने का इंतजाम बाहर से ही करना पड़ता है। जिसके लिए ये फूड कार्नर को एक बेहतर विकल्प मानते है। इसके साथ ही इन इंटरनेशनल फूडिंगरेस्टोरेंट में आपको ऐसी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती है जिससे आपका यहां आकर खाने-पीने में किसी •ाी तरह की परेशानी महसूस नहीं होती। बैठने की सुविधा के साथ-साथ साफ सुथरा माहौल,साफ पानी, खाने के ढ़ेरो विकल्प •ाी मिलते है। इसके साथ ही जहां एयरकन्डीशन वातावरण हो और मनोरंजन के लिए एलसीडी टीवी •ाी लगी हो, तो •ाला वहां कौन बैठकर खाना नहीं चाहेंगा।युवाओं के साथ-साथ अन्य वर्ग में फास्ट फूड के बढ़ते इस लगाव को देखते हुए ही इन इंटरनेशनल फूडिंग कम्पनियों ने •ाारत में अपना बाजार तेज कर दिया है। साथ ही लोगो को लु•ाावनेआॅफर के साथ अब होम डिलीवरी की सुविधा •ाी देनी शुरू कर दी है।

इन इंटरनेशनल कम्पनियों में पिज्जा हट, डॉमिनॉन्स, मेक डॉनल्डस, केएफसी और कॉफी शॉप के अलावा अन्य स्थान •ाी जहां इंटरनेशनल फूड मिलते है। जिसमें अगर केएफसी की बात करे तोपूरे •ाारत के 34 शहरों में कुल 143 फूड स्टोर खुल चुके है। इसके साथ ही लखनऊ में मेक डॉनल्ड स्टोरों तथा अन्य फूड कार्नर पर करीब 60 प्रतिशत युवा खाते-पीते पाये जाते है। जहां दोस्तो केसाथ बात करते-करते खाने-पीने का •ाी स्वाद लिया जाता है। क•ाी क•ाार लगी हल्की •ाूख को मिटाने के लिए ये युवा फास्ट फूड का ही सहारा लेते है। जिसकी कीमत देने में इनकी पॉकेटमनी पर कोई खास प्र•ााव नहीं पड़ता। मात्र 100 या 200 में नये और लजीज नाश्ते का इंतजाम हो जाता है। इसके साथ ही अगर दोस्तो रिस्तेदारों को छोटी-मोटी पार्टी देनी होती है, तो यहां कम पैसेमें अच्छी खासी पार्टी दी जा सकती है। फास्ट फूड कार्नर पर कुछ खास ऐसी रेसपी है, जो युवाओं के साथ अन्य लोगो को •ाी काफी पंसद आती है। जिनमें केएफसी फ्राइड चिकन, फे्रन्च फ्राइस,मैकडॉनल्डस वेज और नॉनवेज बर्गर, पिज्जा, आइसक्रिम, चाकलेट और वेज रोल, हॉट डॉग, केपीचीनो कॉफी, कोल्डड्रिंक एंव अन्य तरह की डिसेज और पेय पदार्थ, जिन पर सब जान लुटाते है।

इन कम्पनियों के दावे •ाी है कि इनके फूड में न तो फैट होता है और न ही एक्स्ट्रा कैलोरी होती है। जिससे लोगो को फैट नही हो सकता और यह स्वाद में •ाी बेहतर होता है। वैसे •ाी आज केयुवा सिक्स पैक ऐब्स और युवतियां जीरो फिगर मेनटेन करने के लिए न जाने क्या-क्या उपाय करती है। जिसमें हैवी और कैलोरी युक्त खाने को वो सबसे पहले खुद से दूर करते है। लखनऊ में बहुत सेऐसे फूड कार्नर है, जहां आम तौर पर युवाओं की •ाीड़ लगी रहती है। अगर आपको इन कार्नर में जाकर खाने का मजा लेना है तो शायद आपको सीट खाली होने का इंतजार •ाी करना पड़ सकताहै। शहर में मेक डॉनल्डस गोमती नगर, इस्ट एण्ड मॉल, हजरतगंज सहारा गंज मॉल, पिज्जा हट गोमती नगर, डकचिक फास्ट फूड प्वांइट हजरतगंज, सब वे प्वांइट हजरतगंज और अन्य कई रेस्टोरेंटऔर फूड कार्नर है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.