2014_9$largeimg203_Sep_2014_063906477हजारीबाग/रांची। पुलिस ने उग्रवादी संगठन झारखंड टाइगर के सरगना समेत पांच उग्रवादियों को गिद्दी के चुंबा गांव से गिरफ्तार किया है। सरगना राजकुमार गुप्ता उर्फ विजय बड़कागांव के चानो का निवासी है।

उसके साथ टंडवा के कुंडी निवासी संदीप साव, बेलतू (केरेडारी) के नकुल साव, नापो (बड़कागांव) के रामचंद्र साव और जिकट (चौपारण) के प्रकाश साव को भी दो देसी कारबाइन, 10 गोलियां, छह मोबाइल व दो मोटरसाइकिल के साथ पकड़ा गया है। यह उग्रवादी संगठन लेवी वसूली के लिए बड़कागांव, उरीमारी, गिद्दी, चरही, टंडवा, कुजू, रामगढ़, रांची, घाटो समेत कई क्षेत्रों में कई घटनाओं को अंजाम दे चुका है। गिरफ्तारी के बाद सरगना राजकुमार गुप्ता ने पुलिस के सामने खुलासा किया है कि उग्रवादी संगठन झारखंड टाइगर का गठन कृषि मंत्री योगेंद्र साव ने किया था। उसका कहना है कि मंत्री श्री साव संगठन को समय-समय पर आर्थिक मदद देते थे। यही नहीं, राजकुमार गुप्ता ने बताया कि वह एक अन्य उग्रवादी के साथ मंत्री के रांची स्थित आवास पर जा चुका है। उधर, हजारीबाग के एसपी मनोज कौशिक ने बताया, उग्रवादियों को चुंबा गांव के एक घर से गिरफ्तार किया गया।ये लोग घटना को अंजाम देकर इसी घर में रुकते थे, वहीं घटना का अंजाम देने की योजना भी बनाते थे। मंगलवार को गुप्त सूचना के आधार पर डीएसपी एचएल रवि के नेतृत्व में गिद्दी थाना प्रभारी कमलेश प्रसाद, चरही थाना प्रभारी व क्यूआरटी फोर्स ने छापामारी कर इन्हें गिरफ्तार किया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.