कोलंबिया के गोलकीपर फारीड मोंड्रागन ने फीफा विश्व कप में जापान के खिलाफ मैदान पर उतरते ही एक अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया।
कोलंबिया के 43 वर्षीय गोलकीपर फारिड मोंड्रागन फीफा विश्व कप में खेलने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन गए हैं। जापान के खिलाफ मैच में वह स्थानापन्न खिलाड़ी के रूप में उतरे। कोलंबिया ने यह मैच 4-1 से जीता।
इससे पहले विश्व कप में सबसे उम्रदराज खिलाड़ी होने का रिकॉर्ड कैमरून के स्ट्राइकर रोजर मीला के नाम था। वह 42 साल की उम्र में 1994 में अमेरिका में आयोजित विश्व कप में खेलने उतरे थे।
football playrमोंड्रागन खेल के 85वें मिनट में मैदान में उतरे। उस समय कोलंबियाई टीम मैच में 3-1 से आगे चल रही थी।
कोलंबिया ने ग्रुप वर्ग में अपने तीनों मैच जीते हैं और टीम अंतिम-16 में पहुंच चुकी है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.