CBSE-topperकर खुदी को बुलंद इतना कि खुदा भी पूछे बन्दे तेरी रजा क्या है। और ऐसा ही कर दिखाया सीबीएसई 12वीं के रिजल्ट में ऑल इंडिया टॉपर रहे दिल्ली के सार्थक अग्रवाल ने। सार्थक का का कहना है कि कामयाबी के लिए जरूरी है टाइम मैनेजमेंट। भले ही कम पढ़ें, लेकिन जितना पढ़ें, ध्यान लगाकर। आज के दौर में जब स्टूडेंट्स के बीच फेसबुक जैसी सोशल साइट का क्रेज जोरों पर है, ऐसे समय में भी सार्थक एफबी से दूर हैं। सायंस स्ट्रीम के सार्थक ने 500 में से 498 मार्क्स हासिल किए हैं। ऐसा रिकॉर्ड बना कर सार्थक ने अपने परिवार का नाम ही रोशन नहीं किया बल्कि साथ ही आज के युवाओं के लिए प्रेरणा बन गया है। आज के छात्रों का उत्साह बढाऩे के लिए सार्थक एक बेहतर उदाहरण बन गए हैं।
सीबीएसई में कंप्यूटर यूनिट के अडवाइजर बी. एम. गुप्ता ने बताया कि सार्थक को 99.6 पर्सेंट मार्क्स मिले हैं। केवल इंग्लिश में उनके 98 मार्क्स हैं। बाकी अन्य सभी सब्जेक्ट इकनॉमिक्स, मैथेमैटिक्स, फिजिक्स और केमिस्ट्री में उनके 100 में से 100 नंबर हैं। वह डीपीएस वसंत कुंज से पढ़े हैं। वह आगे चल का आईएएस बनना चाहते हैं।
सार्थक ने बताया कि वह अपने माता-पिता की इकलौती संतान हैं। उनके पिता सुशील चंद्रा एक बिजनसमैन हैं और मां नीरज चंद्रा हाउस वाइफ। अब वह इकनॉमिक्स (ऑनर्स) करना चाहते हैं। इसके लिए उनकी पहली पसंद एसआरसीसी और सेंट स्टीफंस कॉलेज हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.