लखनऊ। भारत रत्न सर मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया, जो एक महान विद्वान, शिक्षाविद और के सबसे प्रसिद्ध सिविल इंजीनियर थे, की 161 वीं जयंती के अवसर पर स्कूल ऑफ मैनेजमेंट साइंसेज लखनऊ ने 15 सितंबर 2021 को 54वां इंजीनियर दिवस मनाया। कार्यक्रम का प्रारम्भ उनके चित्र पर माल्यार्पण और गणमान्य व्यक्तियों द्वारा भाषणों के साथ आयोजित किया गया।
श्री शरद सिंह, सीईओ, एसएमएस, इस अवसर पर सभी इंजीनियरिंग संकाय और कर्मचारियों को शुभकामनाएं दी। प्रोफेसर (डॉ.) भरत राज सिंह, महानिदेशक (तकनीकी), स्कूल ऑफ मैनेजमेंट साइंसेज, लखनऊ ने प्रतिभावान भारत रत्न सर मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया के द्वारा किए गए अग्रणी कार्यों के बारे में विस्तार से सभा को संबोधित किया।
उन्होंने सर एम विश्वेश्वरैया के नक्शेकदम पर चलने और राष्ट्र के लिए सार्थक योगदान देने के लिए इंजीनियरों की बिरादरी को भी प्रेरित किया। डॉ. हेमंत कुमार सिंह, विभागाध्यक्ष ने स्लाइड प्रेजेंटेशन के माध्यम से भारत के महान इंजीनियरों के कार्यों को सूचीबद्धकर उनके राष्ट्र निर्माण के लिए किये गये उल्लेखनीय कार्यो को दर्शाया।
अन्य वक्ताओं में प्रोफेसर डॉ. धर्मेंद्र सिंह, अधिष्ठाता-शैक्षनिक, डॉ.पीके सिंह, विभागाध्यक्ष-एचएएस, डॉ अमरजीत सिंह, विभागाध्यक्ष-ईलेक्ट्रिकल और पंकज कुमार यादव विभागाध्यक्ष-यांत्रिकी ने भी इंजीनियर्स दिवस पर प्रकाश डाला और दर्शकों से छात्रों के रचनात्मक विचारों, समर्पण और तकनीकी ज्ञान को प्रज्वलित करने का आग्रह किया। कार्यक्रम का आयोजन श्री अनूप सिंह, सहायक प्रोफेसर, एसएमएस, लखनऊ द्वारा किया गया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.