बलरामपुर: जिले में मंगलवार को संदिग्ध परिस्थितियों में मां-बेटी की मौत हो गई. उनका शव घर के पास बने तालाब में उतराता हुआ पाया गया. परिजनों ने दोनों शवों को बाहर निकालकर पुलिस और मृतका के परिजनों (मायके वालों) को सूचना दी. घटना के बाद मृतका के मायके वालों ने ससुराल पक्ष के लोगों पर दहेज के लिए बेटी और नातिन की हत्या करने का आरोप लगाया है.
जिले के थाना रेहरा बाजार के ग्रामसभा अचलपुर के एक तालाब में मां और बेटी का शव संदिग्ध परिस्थितियों में उतराता हुआ मिला. इसकी सूचना परिजनों ने पुलिस और उसके मायके वालों को दी. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं मृतका के पिता और भाई ने थाने पर तहरीर देते हुए ससुराल वालों पर दहेज-हत्या का गंभीर आरोप लगाया है.करीब 6 साल पहले किरतापुर के रहने वाले आशिक अली ने अपनी पुत्री नाजमा खातून का निकाह अहमद अली के साथ किया था. शादी के वक्त हैसियत के मुताबिक आशिक अली ने अपने दामाद को ढ़ेरों उपहार व हीरो डीलक्स बाइक भेंट की थी, लेकिन इसके बाद भी ससुराल पक्ष के लोगों द्वारा पल्सर बाइक और अन्य चीजों की मांग की जा रही थी.
आरोप है कि इसी कारण से ससुराल पक्ष ने बेटी और नातिन की हत्या कर दी, जबकि मृतका के ससुरालियों का कहना है कि बहु शौच के लिए बेटी के साथ बाहर तालाब के पास गई थी, वहीं पर पैर फिसलने के कारण डूबने से मौत हो गई.पूरे मामले में उतरौला सीओ उदय राज सिंह ने बताया कि दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया था. डॉक्टरों की रिपोर्ट के मुताबिक दोनों के शरीर पर किसी भी तरह के चोट के निशान नहीं है. दोनों की डूबकर मौत हुई है. हालांकि मायके पक्ष के लोगों ने तहरीर देकर दहेज-हत्या का आरोप लगाया है, जिसके लिए रेहरा थाने की पुलिस छानबीन कर रही है. अगर पर्याप्त साक्ष्य मिलते हैं, तो संबंधित के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कार्रवाई की जाएगी.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.