कजाख्‍स्‍तान और रूस के बीच इन दिनों एक नया मसला छाया हुआ है. कजाखस्‍तान के एक बिजनेसमैन ने रूस के सामने एक ऐसी शर्त रख दी है जिसके बाद राष्‍ट्रपति व्‍लादीमिर पुतिन भी परेशान हो जाएंगे. कजाख बिजनेसमैन ने रूस से कहा है कि वो सोवियत दौर के लीजेंड्री बुरान स्‍पेस प्‍लेन की प्रतिकृति को वापस कर देगा. मगर इसके लिए रूस को देश के आखिरी खान का सिर लौटाना होगा. रूस की राष्‍ट्रीय स्‍पेस एजेंसी की तरफ से इस बात का खुलासा किया गया है. आइए आपको इस सारे मामले के बारे में बताते हैं.
रूस की स्‍पेस एजेंसी रोसकॉसमॉस के मुखिया दिमित्री रोगोजिन ने बताया है कि कजाखस्‍तान के बिजनेसमैन की तरफ से एक अजब-गजब ऑफर की पेशकश की गई है. यह ऑफर उस समय रखा गया जब रूस ने यह शिकायत की कि बुरान के मॉडल पर ध्‍यान नहीं दिया गया और इसे नजरअंदाज किया गया तो फिर यह अचानक गिरकर टुकड़ों में बंट सकता है. कजाख्‍स्‍तान की तरफ जो ऑफर आया है, वो रूस ने स्‍वीकार किया है या नहीं, इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं है.
क्‍या है बुरान स्‍पेसक्राफ्ट की अहमियत
बुरान एक रूसी शब्‍द है जिसका मतलब होता है बर्फीला तूफान. यह पहला स्‍पेस प्‍लेन था जिसे सोवियत और रूसी स्‍पेस प्रोग्राम के तहत मिलकर डेवलप किया गया था. यह एक यूएस स्‍पेस क्राफ्ट से मिलता-जुलता था. बुरान ने साल 1988 में पहली बार उड़ान भरी थी और कक्षा में पहुंचने में कामयाब हुआ था. लेकिन इस प्रोग्राम को उस समय रोक दिया गया जब सोवियत यूनियन का पतन हुआ. सोवियत संघ के टूटने के बाद इसकी फंडिंग पूरी तरह से बंद हो गई थी और ऐसे में इसे बंद करने के अलावा कोई और विकल्‍प नहीं बचा था. इसका एक मॉडल बकनौर में भी है. मगर जो मॉडल कजाख्‍स्‍तान में है वो उड़ने के लायक है.
कौन थे Last Khan
मूसा ने जिस आखिरी खान के सिर या खोपड़ी की मांग की है उन्‍हें कजाख खान के तौर पर जाना जाता है. कजाख खान रूस और कजाख्‍स्‍तान के बीच लंबे समय से तनाव का विषय बने हुए हैं. साल 1847 में उनका सिर उनके दुश्‍मन खांते ने धड़ से अलग कर दिया था. माना जाता है खांते को रूस की तरफ से भेजा गया था. पिछले कुछ सालों में कई कजाख नेताओं ने इस सिर की मांग की है मगर रूस की अथॉरिटीज की तरफ से हर बार यही कहा गया है कि उनका सिर कहां है, कोई भी नहीं जानता है.
बर्बाद हो सकता है बुरान मॉडल
साल 2020 में रूस की अंतरिक्ष संस्‍था ने बुरान को खरीदकर देश में वापस लाने की कोशिश की थी. लेकिन पता लगा कि ये मॉडल किसी अनाम कजाख बिजनेसमैन ने खरीद लिया है. अब इस बिजनेसमैन का नाम सामने आया है और इसकी पहचान दारेन मूसा के तौर पर हुई है. इस स्‍पेस प्‍लेन की बहुत सी प्रतिक्रतियां हैं और हर मॉडल अपने आप में कीमती है. माना जा रहा है कि मूसा ने जहां पर इस मॉडल को रखा है, वो जगह भी बहुत ही पुरानी है. रूस के विशेषज्ञों की मानें तो अगर इस पर ध्‍यान नहीं दिया गया तो फिर ये कुछ ही दिनों में गिरकर टूट जाएगा.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.