यूपी एटीएस और दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मिलकर मंगलवार को 6 आतंकियों को गिरफ्तार किया. आतंकी गतिविधियों में प्रयागराज का एक युवक भी शामिल था. एटीएस ने यहां से एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है. जीशान कमर नाम का यह संदिग्ध पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट है और लंबे अरसे तक दुबई में रहा है.
एटीएस की टीम ने जीशान कमर को प्रयागराज के करेली इलाके के सी ब्लॉक में स्थित उसके मकान से गिरफ्तार किया है. एटीएस ने जीशान की निशानदेही पर नैनी इलाके से एक आईडी भी बरामद किया है. इस आईडी को डिस्ट्रॉय भी करा दिया गया है.
जीशान कमर प्रयागराज शहर के करेली इलाके के सी ब्लॉक में आलीशान मकान में रहता था. उसकी दो बहनें हैं. तकरीबन डेढ़ साल पहले उसकी शादी हुई है. लॉकडाउन में दुबई से वापस आने के बाद से वह भारत में रह रहा था. कहने के लिए वह भारत में खजूर के इंपोर्ट और एक्सपोर्ट का काम करता था, लेकिन एटीएस ने जो खुलासा किया है, वह बेहद चौंकाने वाला हैं.
तकरीबन 30 साल का जीशान बेहद मिलनसार था. पड़ोसियों के मुताबिक उन्हें कभी इस बात का अहसास तक नहीं हुआ कि जीशान इस तरह की गतिविधियों में शामिल हो सकता है. जीशान के बयान के आधार पर एटीएस ने शहर में कई अन्य जगहों पर भी छापेमारी की है. कई लोगों से पूछताछ की है.
तारिक मदनी नाम के एक अन्य युवक को भी उठाए जाने की चर्चा है. जीशान कमर की गिरफ्तारी के बाद से उसके मोहल्ले में हड़कंप मचा हुआ है. किसी को इस बात पर यकीन नहीं हो रहा है. जीशान की गिरफ्तारी के बाद से परिवार वालों ने खुद को घर में कैद कर लिया है और वह कुछ भी बोलने से बच रहे हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.