लखनऊः उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव करीब आते ही सभी राजनीतिक दलों को जनता से जुड़ाव की जरूरत महसूस होने लगी है. यही वजह है की अभियानों, सम्मेलनों के साथ ही यात्राओं का सिलसिला भी शुरू हो गया है. यूपी में अखिलेश की समाजवादी पार्टी के साथ जयंत चौधरी के रालोद का गठबंधन लगभग तय है. दोनों पार्टियां साथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ेंगी. ऐसे में के दोनों ही पार्टियां यात्राओं का आयोजन कर गठबंधन को मजबूती देने में जुटी हैं. राष्ट्रीय लोक दल ने आगामी दो अक्टूबर से ‘जन आशीर्वाद’ यात्रा शुरू करने का एलान किया है.
राष्ट्रीय लोक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी का यह पहला ऐसा चुनाव होगा जो उनके नेतृत्व में यूपी में रालोद लड़ेगा. पहले उनके पिता चौधरी अजीत सिंह की अध्यक्षता में पार्टी ने चुनाव लड़े हैं. चूंकि जयंत का यह पहला चुनाव है ऐसे में पार्टी को मजबूती देने में कोई कोर- कसर छोड़ना नहीं चाहते हैं. लगातार किसान महापंचायत में किसानों के साथ खड़े होकर वह अपने को अपने दादा चौधरी चरण सिंह और पिता चौधरी अजीत सिंह की तरह ही किसानों का हितैषी होने का प्रमाण दे रहे हैं.
यही नहीं जयंत चौधरी लगातार जाट और मुसलमानों के बीच पड़ी खाई की भरपाई करने की भी कोशिश भी कर रहे हैं. ये उनके बीच जाकर उनसे संवाद भी स्थापित कर रहे हैं. जयंत चौधरी ने अब घोषणा की है कि आगामी दो अक्टूबर से राष्ट्रीय लोकदल प्रदेश भर में ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ शुरू करेगी. पार्टी के नेताओं ने बताया कि अगले माह दो अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ का आयोजन होगा. ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ शुरू होने से पहले 19 सितंबर को बागपत के छपरौली में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की जाएगी.
हर जिले में दो दिन रुकेंगे जयंत चौधरी
यात्रा के दौरान राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी हर जिले में दो दिन रहेंगे. 31 अक्टूबर को लखनऊ में सरदार पटेल की जयंती पर लोक संकल्प पत्र की घोषणा की जाएगी.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.