Pawan265307-04-2014-03-47-99Wको सिक्किम में चुनौती देना सचमुच किसी के बस में नहीं। सिक्किम विधानसभा चुनाव में एसडीएफ सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को फिर जबरदस्त बहुमत मिला है। देर शाम तक 31 सीटों के नतीजे आ गए थे जिसमें मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग के नेतृत्व वाली एसडीएफ को 32 में से 22 सीट मिली है। हालांकिए एसडीएफ की जीत इस बार पिछले चुनाव की तरह एक तरफा नहीं है लेकिन इस जीत के साथ एसडीएफ सिक्किम में रिकॉर्ड पांचवीं बार सत्ता में आई है। 2009 के विधानसभा चुनाव में एसडीएफ ने सभी 32 सीट पर जीत हासिल की थी। इस बार एसडीएफ से अलग होकर बनी एसकेएम ;सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चाद्ध ने चामलिंग की पार्टी को कड़ी टक्कर दी है। हालांकिए मोर्चा के संस्थापक प्रेम सिंह तमांग खुद चुनाव हार गए हैं। एसकेएम ने 9 सीट पर जीत दर्ज कर अपने पहले ही चुनाव में बेहतर प्रदर्शन किया है। राज्य में एसडीएफ 1994 से सत्ता में हैं। चामलिंग ने इस बार नामची सिंगिथांग विधानसभा सीट पर 1084 मतों से जीत हासिल की। कांग्रेस यहां 1975 और 1977 में सत्ता में आई थी और इसके बाद से राज्य में उसकी हालत खराब है। इस बार भी पार्टी को किसी सीट पर जीत नहीं मिली। राज्य में 12 अप्रैल को वोटिंग हुई थीए जिसमें 70 प्रतिशत लोगों ने मतदान किया था।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.