गोंडा: गोंडा के प्रभारी मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह आज जिले के तीन ब्लॉक वजीरगंज, तरबगंज व नवाबगंज में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की. इस दौरान बीजेपी के बड़े नेता के साथ जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी व अन्य अधिकारी मौजूद रहे. सबसे पहले सिद्धार्थ नाथ सिंह गोंडा से वजीरगंज ब्लॉक पहुंचे, वहां पर वृक्षारोपण के बाद अधिकारियों के साथ विकास कार्यों की समीक्षा की. इसके बाद वह सीधे नगर पालिका नवाबगंज में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक के लिए निकल गए.
राजभर के बयान पर पलटवार
प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने भारतीय सुहेलदेव पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर द्वारा बनारस में दिए गए बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि, ओमप्रकाश राजभर कानून व्यवस्था अपने हाथ में लेना चाहते होंगे, तो कानून अपने तरीके से काम करेगा. चाहे वह चुनाव के पहले होगा या चुनाव के बाद होगा या दौरान होगा इलेक्शन कमीशन है, सभी संविधान से बनते हैं. मैं उम्मीद करता कि, इस प्रकार के अपशब्द का प्रयोग नहीं करेंगे. जनता ऐसे ही व्यक्ति के साथ क्या करती है वह वोट के माध्यम से लोकतांत्रिक माध्यम से जनता उनको जरूर सबक सिखाएगी. जो चोट उनको लगेगी शायद लोग उठने लायक नहीं रहेंगे. हमारे यहां विरोधाभास नहीं है. हमारे सभी मित्र हैं, राजनीति में कोई किसी का दुश्मन नहीं होता है. हम लोग एक दूसरे के विरोधी होते हैं. बता दें कि, ओम प्रकाश राजभर ने कहा था कि, अगर बीजेपी के नेता वोट मांगने आए तो उनकी पिटाई करिए. इसके बाद राजभर बीजेपी नेताओं के निशाने पर हैं.

तिलक, तराजू की बात करने लगे..
वहीं, मायावती द्वारा दिए गए बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि, क्या बोले उन लोगों के लिए जिन लोगों ने समाज को बांटकर राजनीति की है. आज वह समाज की बात कर रहे हैं. जिनका एक नारा बड़ा फेमस हुआ था, तिलक तराजू और तलवार मारो इनको… वह नारा देने वाले आज तिलक और तराजू की बात करने चले हैं, क्या करने चले हैं, इन लोगों पर समाज के किसी लोगों को विश्वास नहीं है.
कानून अपना काम करेगा
दूसरी तरफ, राकेश टिकैत द्वारा यूपी बॉर्डर सील करने व यूपी कूच करने पर पलटवार करते हुए कहा कि, कोई पाकिस्तान का बॉर्डर नहीं है जो राकेश टिकैत चल दिए हैं. उनको लगता है कि उस दिन सील कर देंगे, उस दिन कानून अपना काम करेगा.
सबका साथ सबका विकास बीजेपी का नारा 
सिंह ने कहा कि, भारतीय जनता पार्टी का कोई संप्रदाय नहीं है. सबका साथ सबका विकास के साथ पार्टी काम कर रही है. उसका विकास मुद्दा है. सांप्रदायिकता किसी भी पार्टी में होगा तो विपक्षी पार्टियों का होगा. आप सोचते हो कि वह अज्ञानी बैठा हुआ है, ब्राह्मण समाज सब समझ रहा है, जिन लोगों ने संप्रदायिकता और जाति की राजनीति की है उस तरफ नहीं देखेगा. भारतीय जनता पार्टी को देखकर अन्य पार्टियां ब्राह्मण समाज के बाद अब पर बुद्ध सम्मेलन करने लगी हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.