हार्वर्ड बिजनेस स्कूल की एक प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में चार भारतीय विद्यार्थियों ने सफलता हासिल की है.
तीन लाख डॉलर (क़रीब 1 करोड़ अस्सी लाख रुपए) का यह पुरस्कार नवीनतम और सामाजिक असर डालने वाले उद्यमों के लिए इस अमरीकी संस्थान के वर्तमान और पूर्व विद्यार्थियों को दिया जाता है.
हार्वर्ड बिजनेस स्कूल के 18वें ‘न्यू वेंचर कॉम्पटीशन’ में यहीं की प्रबंधन की छात्रा अमृता सहगल ने ‘सामाजिक उद्यम’ श्रेणी के अंतर्गत यह पुरस्कार जीता है.उन्हें यह पुरस्कार उनके उद्यम ‘साथी’ के लिए दिया गया है, जिसे उन्होंने ओरेकिल इंजीनियर क्रिस्टीन कागेत्सु के साथ मिलकर शुरू किया था.’साथी’ बेकार हो चुके केले के तने से बने सस्ते सैनिटरी पैड को भारत के ग्रामीण इलाकों में महिलाओं को उपलब्ध कराती है.मेसाच्युसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले सहगल और क्रिस्टीन को प्रतियोगिता में 50,000 डॉलर (क़रीब 30 लाख रुपए) पुरस्कार स्वरूप दिया गया.यह पुरस्कार, ‘एक साधारण विचार सब कुछ बदल सकता है’ से प्रेरित है. साथी को इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग में भी ‘स्रोताओं की पसंद’ का पुरस्कार हासिल हुआ.बिजनेस ट्रैक श्रेणी में ‘अल्फ्रेड’ नाम से उद्यम शुरू करने वाले सौरभ महाजन, मार्सेला सपोन और जेस बेक विजयी रहे. ‘अल्फ्रेड’ एक ऐसा कार्यक्रम है जिसे ड्राई क्लीनिंग, घर की सफाई, किराना की ज़रूरतें, लॉंड्री जैसे अन्य रोजमर्रा और साप्ताहिक कामों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है.सामाजिक सरोकारसामाजिक उद्यम श्रेणी में द्वितीय पुरस्कार ‘टमैटो जोस’ उद्यम शुरू करने वाले प्रबंधन के विद्यार्थी मीरा मेहता और माइक को मिला.’टमैटो जोस’ टमाटर की प्रसंस्करण तकनीक को एकीकृत करने वाली कंपनी है.इसने नाइजीरिया के उन छोटे किसानों को टमाटर उगाने में मदद करती है, जिससे सॉस बनाया जा सकता है.’बूया फिटनेस’ के नाम से उद्यम शुरू करने वाले प्रीतर कुमार दूसरे स्थान पर रहे और उन्हें 25,000 डॉलर (लगभग 15 लाख रुपए) का पुरस्कार मिला.बूया फिटनेस एक वीडियो प्रोग्राम है, जिसे बेहतरीन जिम प्रशिक्षकों ने तैयार किया है. इस प्रतियोगिता में हार्वर्ड के 150 प्रबंधन विद्यार्थियों में हिस्सा लिया था.इसके अतिरिक्त दुनिया भर में फैले हार्वर्ड बिजनेस स्कूल के पूर्व छात्रों के 17 क्लबों से जुड़े स्नातकों ने भी हिस्सा लिया था.प्रतियोगिता के अंतिम चरण में हर उद्यम के एक सदस्य ने दर्शकों के सामने 90 सेकेंड का एक प्रस्तुतिकरण पेश किया, जिसके बाद इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग हुई.विजेता रहे पूर्व छात्रों का चुनाव, पूरी दुनिया में मौजूद हार्वर्ड बिजनेस स्कूल के अन्य छात्रों द्वारा ऑनलाइन वोटिंग से हुआ.howard univप्रतियोगिता में तीन श्रेणियां थीं- सबसे अभिनव, सबसे असरदार और बेहतरीन निवेश.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.