नई दिल्ली: सियासी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने आज एक बार फिर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) सुप्रीमो शरद पवार से मुलाकात की. इससे एक दिन पहले आठ विपक्षी दलों के नेता पवार के आवास पर एकत्रित हुए और उन्होंने देश के समक्ष मौजूद कई मुद्दों पर चर्चा की.
सूत्रों ने बताया कि प्रशांत किशोर और शरद पवार के बीच करीब एक घंटे तक बंद कमरे में बातचीत हुई. यह मुलाकात पवार के दिल्ली में स्थित आवास पर हुई. एक पखवाड़े के भीतर यह उनकी तीसरी मुलाकात है.
पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में तृणमूल कांग्रेस की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले किशोर ने 11 जून को मुंबई में पवार के आवास पर दोपहर के भोजन पर उनसे मुलाकात की थी. उन्होंने सोमवार को फिर दिल्ली में एनसीपी अध्यक्ष से मुलाकात की थी.
पवार के साथ इन बैठकों ने विपक्षी दलों के बीजेपी के खिलाफ तीसरा मोर्चा बनाने के लिए एक साथ आने की अटकलों को हवा दे दी है. पवार ने मंगलवार को दिल्ली में अपने आवास में आठ विपक्षी दलों के नेताओं के साथ बैठक की थी. इनमें तृणमूल कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, आम आदमी पार्टी, राष्ट्रीय लोक दल और वाम दल शामिल रहे.
हालांकि इस बैठक में भाग लेने वाले नेताओं ने कहा कि यह पूर्व वित्त मंत्री और टीएमसी उपाध्यक्ष यशवंत सिन्हा द्वारा बनाए राष्ट्रीय मंच की एक जैसी विचारधारा वाले लोगों की ‘‘गैर- राजनीतिक’’ मुलाकात की थी.
मंगलवार को विपक्षी नेताओं से मुलाकात से पहले पवार ने उसी दिन एनसीपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की भी अध्यक्षता की थी और अपनी ‘‘भविष्य की नीतियों’’, अगले लोकसभा चुनावों में उसकी भूमिका और मौजूदा राष्ट्रीय मुद्दों पर अपनी पार्टी के नेताओं के साथ ‘‘विस्तारपूर्वक चर्चा’’ की थी.
पवार के आवास पर बैठक में शामिल होने वाले विपक्षी दल के नेताओं में नेशनल कांफ्रेंस के उमर अब्दुल्ला, सपा के घनश्याम तिवारी, रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी, आप के सुशील गुप्ता, भाकपा के बिनॉय विश्वम, माकपा के निलोत्पल बासु और टीएमसी के उपाध्यक्ष यशवंत सिन्हा समेत अन्य नेता शामिल थे.
पूर्व कांग्रेस नेता संजय झा और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के पूर्व नेता पवन वर्मा ने भी बैठक में भाग लिया. नेताओं के अलावा कई प्रतिष्ठित हस्तियों जैसे कि जावेद अख्तर, पूर्व राजदूत के सी सिंह और न्यायाधीश (सेवानिवृत्त) ए पी शाह भी मंगलवार को हुई बैठक में शामिल हुए.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.