अबु धाबी : अबु धाबी के शेख जायेद स्टेडियम में मंगलवार को जब इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के सातवें संस्करण के तहत 19वें मैच में जब दो पूर्व चैम्पियन टीमें राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स आमने-सामने होंगी, तो उनका उद्देश्य इस सत्र के अपने ढुलमुल प्रदर्शन से उबरते हुए जीत हासिल कर एक सशक्त टीम के रूप में उभरने पर रहेगी। आईपीएल-7 में अब तक दोनों ही टीमों ने चार-चार मैच खेले हैं, जिसमें दोनों को दो-दो मैचों में जीत मिली है।
नाइट राइडर्स की बल्लेबाजी लाइन अप में रॉयल्स की अपेक्षा कहीं बड़े और प्रतिष्ठित नाम हैं, लेकिन रॉयल्स ने अब तक कहीं बेहतर बल्लेबाजी का प्रदर्शन किया है। रॉयल्स में शेन वाट्सन, स्टीव स्मिथ, ब्रैड हौज, अजिंक्य रहाणे जैसे अनुभवी मंझे हुए बल्लेबाजों के साथ संजू सैमसन, स्टूअर्ट बिन्नी और अभिषेक नायर जैसे युवा प्रतिभाशाली बल्लेबाजों का बेहतर सामंजस्य है।
रॉयल्स के गेंदबाजों का प्रदर्शन ज्यादा बेहतर रहा है। रॉयल्स के लिए अब तक प्रवीण टाम्बे ने सबसे प्रभावशाली प्रदर्शन किया है। उन्होंने टी-20 गेंदबाज के रूप में खुद को स्थापित किया है। मैक्सवेल की तूफानी पारी वाले मैच में भी टाम्बे ने 6.5 के औसत से ही रन लुटाए। टाम्बे ने अब तक चार मैचों में 6.0 की इकॉनमी से 96 रन देकर पांच विकेट हासिल किए हैं। टाम्बे के अलावा रजत भाटिया का भी प्रदर्शन काबिलेतारीफ रहा है। पिछले दो मैचों से टीम में शामिल टिम साउदी लय में दिख रहे हैं और उनके आने से रॉयल्स की गेंदबाजी और भी संतुलित हो गई है।
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ पिछले मैच में तो रॉयल्स के गेंदबाज चरम पर थे और उन्होंने बेंगलुरु को आईपीएल के उसके न्यूनतम स्कोर पर सीमित कर दिया। दूसरी ओर नाइट राइडर्स के प्रदर्शन में भी निरंतरता का अभाव है। नाइट राइर्डस की बल्लेबाजी गहरी है, लेकिन वे अब तक अपनी प्रतिष्ठा से न्याय नहीं कर पाए हैं। जैक्स कैलिस, गौतम गम्भीर, रोबिन उथप्पा, यूसुफ पठान जैसे बल्लेबाजों के रहते पिछले मैच में किंग्स इलेवन के खिलाफ 132 के मामूली लक्ष्य को हासिल न कर पाना नाइट राइर्डस के लिए चिंता का सबब होगा। सबसे बड़ी चिंता गम्भीर की बल्लेबाजी को लेकर है, वह अब तक चार मैचों में सिर्फ एक रन बना सके हैं।
गेंदबाजी में नाइट राइडर्स का अब तक का प्रदर्शन अच्छा रहा है। पर्पल कैप धारी सुनील नरेन नाइट राइडर्स के अब तक के सबसे सफल गेंदबाज रहे हैं। अबु धाबी के पिच पर पीयूष चावला के पिछले प्रदर्शन को देखते हुए उम्मीद है कि नाइट राइडर्स इस मैच में भी दो स्पिन गेंदबाजों के साथ उतरें। हालांकि जैक्स कैलिस के अलावा नाइट राइडर्स में हरफनमौला गेंदबाजों की कमी जरूर खलती है। शाकिब अल हसन को शुरुआती दो मैचों में औसत प्रदर्शन के बाद हटा दिया गया और विशेषज्ञ गेंदबाज उमेश यादव को लाया गया है, हालांकि यादव ने भी अब तक औसत प्रदर्शन ही किया है। ऐसे में रॉयल्स के खिलाफ हसन की वापसी की संभावना हो सकती है। दोनों ही टीमें अबु धाबी की इस पिच से बखूबी वाकिफ हो चुकी हैं। लेकिन दूसरी ओर उन्हें पिच के मिजाज के अनुरूप न सिर्फ स्थिर एवं संयमभरी बल्लेबाजी करनी होगी बल्कि गेंदबाजों को इसका पूरा फायदा उठाने के लिए भी प्रेरित करना होगा। दोनों टीमों के बीच आईपीएल में अब तक 12 मुकाबले हुए हैं, जिसमें दोनों का पलड़ा बराबर रहा है।
टीमें (संभावित) : राजस्थान रॉयल्स : शेन वाट्सन (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, करुण नायर, संजू सैमसन, अभिषेक नायर, स्टूअर्ट बिन्नी, स्टीव स्मिथ, रजत भाटिया, केन रिचर्डसन, प्रवीण टाम्बे, टिम साउदी, अंकुश बैंस, जेम्स फॉल्कनर।
images (3)कोलकाता नाइट राइडर्स: गौतम गम्भीर (कप्तान), जैक्स कैलिस, मनीष पांडेय, क्रिस लिन, रोबिन उथप्पा, यूसुफ पठान, सूर्यकुमार यादव, पियूष चावला, सुनील नरेन, उमेश यादव, मोर्ने मोर्केल, शाकिब अल हसन, विनय कुमार। (एजेंसी इनपुट के साथ)

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.