किंग्स इलेवन पंजाब ने आल राउंड प्रदर्शन करते हुए आज यहां कम स्कोर वाले इंडियन प्रीमियर लीग सात के मैच में रायल चैलेंजर्स बेंगलूर को सात गेंद रहते पांच विकेट से शिकस्त दी और लगातार पाचवीं जीत दर्ज की. किंग्स इलेवन पंजाब इस तरह अभी तक अपने सभी पांचों मैच जीतकर 10 अंक लेकर शीर्ष पर बनी हुई है जबकि रायल चैलेंजर्स बेंगलूर की पांच मैचों में यह लगातार तीसरी हार थी और उसके पांच मैचों में चार अंक हैं.
पंजाब की अनुशासित गेंदबाजी से और शीर्ष क्रम लडखडाने से रायल चैलेंजर्स बेंगलूर बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद आठ विकेट पर 124 रन ही बना सकी. इसके जवाब में किंग्स इलेवन पंजाब ने 18.5 ओवर में पांच विकेट पर 127 रन बनाकर जीत दर्ज की.
सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग (32 रन, 26 गेंद में चार चौके) शीर्ष स्कोरर रहे, उन्होंने और डेविड मिलर :26 रन, 20 गेंद में चार चौके: ने चौथे विकेट के लिये 45 रन की भागीदारी निभायी. मिलर ने 12वें ओवर में एलबी मोर्कल पर लगातार तीन चौके लगाये लेकिन अगले ही ओवर में वह युजवेंद्र चाहल की खूबसूरत गेंद पर विकेटकीपर पार्थिव पटेल को कैच दे बैठे. सहवाग भी इसी ओवर में पवेलियन लौट गये. चाहल ने अपनी ही गेंद पर उन्हें कैच आउट किया. इस समय टीम थोडी दबाव में आ गयी थी.
पंजाब को सात ओवर में 37 रन की दरकार थी, उसके पांच विकेट बाकी थे. रिषि घवन ने 22 गेंद में तीन चौके से नाबाद 23 और जार्ज बेली ने 16 गेंद में एक चौके से नाबाद 16 रन की पारी खेलकर टीम को आराम से जीत की ओर पहुंचाया. इन दोनों ने छठे विकेट के लिये नाबाद 39 रन की भागीदारी की.
किंग्स इलेवन पंजाब की शुरुआत अच्छी नहीं रही, उसने सलामी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (10) का विकेट पांचवें ओवर में खो दिया. अशोक डिंडा की गेंद पर विकेट के पीछे पार्थिव पटेल ने उनका कैच लपका. रिद्धिमान साहा (02) भी नहीं टिक सके. वरुण आरोन की गेंद पर मिशेल स्टार्क ने उनका कैच लपका. ग्लैन मैक्सवेल का महत्वपूर्ण विकेट भी आरोन ने ही हासिल किया और स्टार्क ने ही उनका कैच लपका जिससे स्कोर 40 रन पर तीन विकेट हो गया.
इससे पहले बेंगलूर ने शीर्ष क्रम के लडखडाने के बाद शुरुआती झटकों से उबरते हुए आठ विकेट पर 124 रन का सम्मानजनक स्कोर खडा किया। उसके लिये युवराज सिंह ने 35 (32 गेंद में तीन चौके और एक छक्का), क्रिस गेल ने 20, एबी डिविलियर्स ने 17 और एलबी मोर्कल ने 15 रन बनाये. पंजाब के लिये आज फिर संदीप शर्मा ने बेहतरीन गेंदबाजी की. उन्होंने तीन ओवर में एक मेडन से 15 रन देकर गेल, कप्तान विराट कोहली और पार्थिव पटेल का विकेट हासिल किया. मिशेल जानसन और रिषि धवन को दो दो विकेट मिले.
रायल चैलेंजर्स बेंगलूर ने सलामी बल्लेबाज गेल के दो चौके और दो छक्के से पहले ओवर में 20 रन जोडे. चोटिल होने के कारण गेल बेंगलूर के शुरुआती चार मैचों में नहीं खेल पाये थे. वह मैच खेलने के लिये उतरे और उन्होंने ग्लेन मैक्सेवल के पारी के पहले ओवर में ही शुरुआती तीन गेंदों पर 6000 रन पूरे कर दिये.
images (2)गेल को इस मुकाम तक पहुंचने के लिये केवल आठ रन की जरुरत थी. उन्होंने मैक्सवेल पर शुरु में ही दो चौके लगाये और फिर उनकी आखिरी दो गेंदों पर छक्के जडे. वह हालांकि संदीप के अगले ओवर में बोल्ड हो गये. इस तरह से गेल के नाम पर अब 165 मैचों में 6012 रन दर्ज हैं जिसमें 11 शतक और 39 अर्धशतक शामिल हैं. कोहली ने आते ही एक चौका जडा, लेकिन अगली गेंद पर संदीप ने उन्हें पगबाधा आउट किया. तीसरे ओवर में योगेश टकावले खाता भी नहीं खोल सके और ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज जानसन का शिकार बने.

संदीप ने अगले ओवर में अपना तीसरा विकेट पार्थिव पटेल (02) के रुप में हासिल किया. इस तरह से टीम ने पांच रन के अंदर चार विकेट खो दिये और उसका स्कोर चार विकेट पर 26 रन हो गया. युवराज और डिविलियर्स (17 रन, 15 गेंद में दो चौके) संभलकर खेल रहे थे, इन दोनों ने पांचवें विकेट के लिये 41 रन जोड लिये थे. लेकिन धवन ने इस साझेदारी को आगे नहीं बढने दिया और डिविलियर्स को मैक्सवेल के हाथों कैच आउट कराया.

मोर्कल (15) भी ज्यादा देर नहीं टिक सके, बालाजी ने 14वें ओवर में उन्हें बोल्ड किया. युवराज की पारी का अंत धवन ने शार्ट गेंद पर डीप मिडविकेट में डेविड मिलर के हाथों कैच थमाकर किया. मोर्कल और वरुण आरोन (11) ने टीम को 120 रन के स्कोर तक पहुंचाया.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.