पिछले दो महीने से भारत कोरोना वायरस महामारी से बुरी तरह से जूझ रहा है. ऐसे मुश्किल वक्त में टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर युवराज सिंह लोगों की मदद के लिए आगे आए हैं. युवराज सिंह की फाउंडेशन यूवीकैन ने भारत में कोविड-19 के मरीजों की देखभाल के लिए विभिन्न अस्पतालों में 1,000 बिस्तर लगाने का एलान किया है.
यूवीकैन ने कहा वनडिजिटल इंटरटेनमेंट के साथ साझेदारी में यह पहल शुरू की जायेगी. इसका उद्देश्य ऑक्सीजन की सुविधा से लैस बिस्तरों, वेंटिलेटर एवं बाईपीएपी मशीनों और कोविड-19 मरीजों की अच्छी देखभाल के लिए जरूरी दूसरे आवश्यक चिकित्सीय उपकरणों को उपलब्ध करवाना है. इसके अलावा संस्था सरकारी हॉस्पिटल्स को बेहतर बनाने पर भी काम करेगी.
युवराज ने कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर विध्वंसक रही है. उन्होंने एक बयान में कहा, “हम सबने अपने प्रियजनों को खोया है और अनगिनत लोगों को ऑक्सीजन, आईसीयू बेड और दूसरे जरूरी देखभाल वाली सुविधाओं के लिए संघर्ष करते देखा है. मैं भी इससे काफी प्रभावित हुआ और मुझे लगा कि हमें अथक प्रयास कर रहे अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं एवं साथ ही केंद्र तथा राज्य सरकारों की मदद के लिए आगे आना चाहिए.”
बिस्तर लगाने का काम हुआ शुरू
यूवीकैन ने दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, राजस्थान, तेलंगाना, कर्नाटक और मध्य प्रदेश के अस्पतालों में बिस्तर लगाना शुरू कर दिया है.
बता दें कि युवराज सिंह कोरोना वायरस की पहली लहर के दौरान भी लोगों की मदद के लिए आगे आए थे. युवराज के अलावा, सहवाग, गंभीर, पठान बंधु और हनुमा विहारी जैसे खिलाड़ियों ने भी मुश्किल वक्त में लोगों की हर संभव तरीके से मदद करने की कोशिश की है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.