बांदा : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में हम कोरोना से लड़ रहे हैं. जिस उत्तर प्रदेश के बारे में दुनिया के विशेषज्ञ कह रहे थे कि यहां स्थिति बहुत खतरनाक हो जाएगी, वहां प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में हमारे जनप्रतिनिधियों, प्रशासनिक अधिकारियों, स्वास्थ्य विभाग की टीमों व अन्य लोगों ने इसका सामना किया. अब कोरोना का ग्राफ उत्तर प्रदेश में तेजी से घट रहा है. उन्होंने दावा किया कि कोरोना की तीसरी लहर के लिए सरकार तैयार है. मुख्यमंत्री बांदा में मीडिया के सवालों का जवाब दे रहे थे.
जिलों में 300 से अधिक ऑक्सीजन प्लांट लगाने की योजना
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पहली लहर में ज्यादा इस बार दूसरे लहर में लोग संक्रमित हुए. इसे लेकर हमने ऑक्सीजन की व्यवस्था की. यहां तक कि ऑक्सीजन के लिए वायु सेना के विमानों तक का उपयोग किया. हम अब प्रदेश के जिलों में 300 से अधिक ऑक्सीजन प्लांट लगाने जा रहे हैं. चित्रकूट मंडल में 9 एक्स्ट्रा प्लांट लगाए जाने हैं. प्रदेश में कोरोना का रिकवरी रेट बढ़ा है. पॉजिटिविटी सिर्फ 2% के आसपास है. हम पहले चरण में निगरानी समिति के माध्यम से मेडिकल किट का वितरण कर रहे हैं. कहा, ‘आज मैं बुंदेलखंड के दौरे पर आया हूं. यहां के जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी व अन्य लोगों के साथ मेरी बैठक हुई है. यह लोग इस अभियान के साथ जुड़े हैं और कोरोना की लड़ाई हम अच्छे से लड़ रहे हैं’.
लाकडाउन नहीं लगाया कोरोना कर्फ्यू लगाया
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने इस दूसरी लहर में लोगों के हितों को ध्यान में रखते हुए लाकडाउन न लगाकर कोरोना कर्फ्यू लगाया है ताकि लोगों को दिक्कतों का सामना न करना पड़े. हमने जरूरी चीजों को लेकर रियायत दी है ताकि लोग परेशान न हो. इस दौरान जिन लोगों के काम प्रभावित हुए हैं, उन्हें हमने राशन देने का काम किया है. हर जिले में कम्युनिटी किचन शुरू किये जा रहे हैं. वैक्सीनेशन एक सुरक्षा कवच है. देश में अब टिपरी वैक्सिंग भी आ चुकी है. इसके लिए हम पीएम के आभारी हैं. फिलहाल हम दो वैक्सीन का ही इस्तेमाल कर रहे हैं. हम एक जून से पूरे प्रदेश में 18 से 44 वर्ष के प्रत्येक व्यक्ति को मुफ्त में वैक्सीन लगाने जा रहे हैं. चित्रकूट मंडल इस अभियान को लेकर अच्छे से आगे बढ़ रहा है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.