नई दिल्ली : काेराेना मरीजाें का नि:शुल्क इलाज कर रहे अस्पतालाें काे मुफ्त में ऑक्सीजन और वैक्सीन उपलब्ध कराने काे लेकर सुप्रीम कोर्ट में शनिवार को एक जनहित याचिका (PIL) दायर की गई.
इसमें नि:शुल्क इलाज कर रहे ऐसे अस्पतालाें काे COVID-19 के टीके खरीदने, ऑक्सीजन प्लांट लगाने या जनरेटर के लिए पीएम केयर्स फंड का इस्तेमाल करने के निर्देश देने की मांग की गई है.
याचिकाकर्ता विप्लव शर्मा का कहना है कि ऑक्सीजन, उपचार, वैक्सीन आदि की कमी के कारण कई रोगियों की जान चली जा रही है, इसलिए पीएम केयर्स फंड का उपयोग इसके लिए किया जाना चाहिए.
इतना ही नहीं उन्होंने सभी राज्यों के सांसदों और विधायकों को भी अपने निर्वाचन क्षेत्रों में इसके लिए अपने एमपी/एमएलए फंड खर्च करने का निर्देश देने की मांग की है.
बता दें कि शर्मा ने केंद्र और राज्यों को यह सुनिश्चित करने के लिए निर्देश देने की मांग की है कि मरीजों को मुफ्त में ऑक्सीजन उपलब्ध कराया जाए और जरूरत के मुताबिक और इलेक्ट्रिक श्मशान बनाए जाएं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.