नई दिल्लीः दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एलान किया है कि दिल्ली में लॉकडाउन को एक हफ्ते के लिए बढ़ा दिया गया है. इस दौरान उन्होंने कहा कि संक्रमण की दर दिल्ली में 35 प्रतिशत तक पहुंच गया था इस कारण हमने मजबूरी में लॉकडाउन लगाने का फैसला किया था. उन्होंने कहा कि पिछले महीने जब दिल्ली में बहुत तेज़ी से कोरोना के मामले बढ़े तो 20 अप्रैल को मजबूरी में दिल्ली में लॉकडाउन लगाना पड़ा था. उन्होंने कहा कि 26 अप्रैल के बाद केस कम हुए क्योंकि लॉकडाउन लगा दिया गया था.
सीएम केजरीवाल की महत्वपूर्ण की बातें- 
अब पॉजिटिविटी रेट घटकर 23-24 प्रतिशत पर आ गया है. सभी लोगों के सहयोग के कारण यह संभव हो पाया है.
इस लॉक डाउन के दौरान हमने हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने पर काम किया कई जगह ऑक्सीजन बैड तैयार किए.
सबसे ज्यादा दिक्कत दिल्ली में ऑक्सीजन की आई. अचानक से नॉर्मल से कई गुना ज्यादा ऑक्सीजन की जरूरत पड़ने लग गई
पिछले कुछ दिनों में केंद्र सरकार के साथ मिलकर और सुप्रीम कोर्ट हाईकोर्ट के आदेशों से केंद्र सरकार के सहयोग से अब दिल्ली के अंदर ऑक्सीजन की स्थिति काफी सुधरी है.
अब इस तरह की बातें सुनने को नहीं मिलती कि इस अस्पताल में 2 घंटे की ऑक्सीजन रह गई या उस अस्पताल में आधे घंटे की रह गई.
वैक्सीनेशन का कार्यक्रम भी बहुत तेजी से बढ़ाने का काम किया गया है. सब लोग इसकी तारीफ कर रहे हैं और दिल्ली के आसपास के लोग भी दिल्ली में आकर दिल्ली में टीका लगवा रहे हैं
वैक्सीन के स्टाफ की कमी है इसके लिए हम केंद्र सरकार से बात कर रहे हैं हमें उम्मीद है सहयोग मिलेगा.
व्यापारियों महिलाओं युवाओं और अलग-अलग वर्ग के लोगों से बात हुई है और सब का यह मानना है कि कोरोना के मामले कम तो हुए हैं लेकिन अभी भी बहुत हैं
इस बार लॉक डाउन और सख्त किया जा रहा है. सोमवार से मेट्रो चलनी बंद हो जाएंगी.
किसी भी सार्वजनिक स्थान/मैरिज हॉल/बैंक्वेट हॉल या होटल में शादी नहीं हो सकेगी
घर में या कोर्ट में शादी हो सकती है लेकिन 20 लोगों से ज्यादा इकठ्ठे होने की इजाजत नहीं
शादी में डीजे, टेंट, कैटरिंग की भी इजाजत नहीं होगी. अगर कस्टमर ने इस तरह की किसी सेवा के लिए पैसे दिए हैं तो उसको पैसे लौटाए जाएं या आपसी सहमति से बाद की डेट तय की जाए.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.