लखनऊ: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा फैसला लिया. मुख्यमंत्री योगी ने मीडिया कर्मियों को कोरोना वैक्सीनेशन में प्राथमिकता देने को कहा है. उन्होंने आदेश दिये हैं कि अलग सेंटर बनाकर या जरूरत हो तो उनके कार्य स्थलों पर जाकर उनके 18 प्लस के परिजनों का एक साथ फ्री वैक्सीनेशन किया जाए.
बता दें कि कोरोना काल में मीडिया कर्मी लगातार लोगों तक खबरें पहुंचाने के दौरान संक्रमित हो रहे हैं. यूपी समेत पूरे देश में कई पत्रकार अबतक इस संक्रमण की चपेट में आकर अपनी जान भी गंवा चुके हैं. इससे पहले पंजाब, पश्चिम बंगाल और मध्य प्रदेश ने पत्रकारों को फ्रंट लाइन वॉरियर मान लिया है. बिहार में भी वैक्सीन लगाने में पत्रकारों को तरजीह देने की बात कही गई है.
यूपी में 24 घंटों में करीब तीन सौ लोगों की मौत
उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 29,192 नए मामले सामने आए हैं. वहीं इस दौरान डिस्चार्ज लोगों की संख्या 38,687 है. पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 288 लोगों की मृत्यु हुई है. कल प्रदेश में 2,29,440 सैंपल की जांच हुई है. उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने यह जानकारी दी है.
अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि ”प्रदेश में वैक्सीन का कार्य चल रहा है. 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों का भी वैक्सीनेशन हो रहा है. अब तक कुल मिलाकर 1,03,57,498 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज़ दी गई है और 23,76,640 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज़ लगाई गई है.”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.