लखनऊः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद लखनऊ, कानपुर नगर, वाराणसी तथा प्रयागराज में कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए प्रभावी रणनीति बनाकर कार्य करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा है कि जनपद लखनऊ के एरा मेडिकल काॅलेज, टीएस मिश्रा मेडिकल काॅलेज तथा इन्टीग्रल मेडिकल काॅलेज को डेडीकेटेड कोविड अस्पताल के रूप में संचालित करने का निर्णय लिया गया है. साथ ही कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रत्येक कोविड हाॅस्पिटल में कोरोना मरीजों के उपचार के लिए कम से कम 700 बेड की उपलब्धता अवश्य रहे. इसके लिए सभी जरूरी चिकित्सा संसाधनों की व्यवस्था की जाए.
कई जनपदों में नाइट कर्फ्यू
मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन जनपदों में प्रतिदिन कोरोना के 100 या उससे अधिक केस मिल रहे हैं अथवा जहां कुल एक्टिव केसों की संख्या 500 से अधिक है, ऐसे जनपदों में रात 09 बजे से सुबह 06 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लगाया जाए.
बंद स्थान में 50 और खुले स्थान में 100 से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर लगी पाबंदी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 से बचाव के संबंध में लोगों को निरन्तर जागरूक किए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इस कार्य में पब्लिक एड्रेस सिस्टम का व्यापक उपयोग किया जाए. लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने तथा मास्क के अनिवार्य उपयोग की जानकारी दी जाए. इन्फोर्समेन्ट की कार्रवाई तेज की जाए. सभी सरकारी एवं निजी कार्यालयों तथा औद्योगिक संस्थानों में कोविड हेल्प डेस्क संचालित की जाए. यह सुनिश्चित किया जाए कि सार्वजनिक कार्यक्रमों के लिए खुले स्थान पर 100 से अधिक तथा बन्द स्थान पर 50 से अधिक लोग एकत्र न हों.

4 दिनों तक चलेगा टीका उत्सव

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड टीकाकरण का कार्य प्रभावी ढंग से संचालित किया जाए. प्रदेश में रविवार से से 04 दिवसीय ‘टीका उत्सव’ प्रारम्भ हो गया है. महात्मा ज्योतिबा फुले की जयन्ती से बाबा साहब डाॅ. बीआर आंबेडकर की जयंती तक आयोजित इस टीकाकरण महाअभियान में लक्षित आयु वर्ग के अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करायी जाए. बैठक में अवगत कराया गया कि प्रदेश के 06 हजार सेन्टर्स पर टीकाकरण कार्य किया जा रहा है.
बैठक में ये रहे मौजूद
बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग, मुख्य सचिव आरके तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई एवं सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव वित्त एस राधा चैहान, अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज एवं ग्राम्य विकास मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा आलोक कुमार, प्रमुख सचिव पशुपालन भुवनेश कुमार, सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.