पिछले 24 घंटे में देशभर से कोरोना के 1.15 लाख नए मामले सामने आए हैं. इससे पहले भी मंगलवार को बीते 24 घंटे में कोरोना के 1 लाख से अधिक नए मरीज सामने आए थे. बीते करीब दो हफ्ते से सामने आ रहे कोरोना के मामले डरा रहे हैं और रिकॉर्ड तोड़ मामले बता रहे हैं कि कोरोना की ये दूसरी लहर 2020 की कोरोना लहर से ज्यादा खतरनाक है. यही वजह है कि इन मामलों ने कई सरकारों के कान खड़े कर दिए हैं. कई राज्य सरकारों ने इस पर बड़ा फैसला लेते हुए कई शहरों में लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू का फैसला लिया है.
कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अलग-अलग राज्यों ने नाइट कर्फ्यू का फैसला लिया है. इनमें दिल्ली, यूपी, महाराष्ट्र, पंजाब, मध्यप्रदेश, गुजरात समेत कई राज्य शामिल है.
उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश में भी कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए यूपी सरकार ने राजधानी लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर और बनारस में नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला लिया है. 8 अप्रैल से 16 अप्रैल तक रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक ये नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा.
महाराष्ट्र
कोरोना की पहली लहर की तरह दूसरी लहर का सबसे ज्यादा कहर भी महाराष्ट्र पर बरपा है. जहां रोज करीब 50 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं. देश के कुल नए मामलों के 50 फीसदी अकेले महाराष्ट्र से सामने आ रहे हैं. मायानगरी मुंबई का भी हाल बेहाल है ऐसे में महाराष्ट्र सरकार ने प्रदेश में वीकेंड लॉकडाउन के साथ-साथ नाइट कर्फ्यू लगा दिया है. इसके अलावा दिन में भी धारा 144 लागू की गई है. कुल मिलाकर महाराष्ट्र में मिनी लॉकडाउन जैे हालात हैं.
दिल्ली
देश की राजधानी दिल्ली में भी कोरोना की रफ्तार बेकाबू होती जा रही है. दिल्ली में बीते दिन 5100 नए केस सामने आए हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मंगलवार को दिल्ली सरकार ने नाइट कर्फ्यू का एलान कर दिया. दिल्ली में नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से 5 बजे तक लागू रहेगा हालांकि आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को नाइट कर्फ्यू से छूट रहेगी.
गुजरात
गुजरात में भी मंगलवार को 3000 से ज्यादा नए मामले सामने आए. बिगड़ेत हालात को देखते हुए प्रदेश सरकार ने पहले अहमदाबाद, राजकोट, वडोदरा और सूरत में ही नाइट कर्फ्यू लगाया था लेकिन मामले बढ़ते देख गुजरात के 20 शहरों में 30 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. गुजरात में नाइट कर्फ्यू रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा. गुजरात में शादियों में सिर्फ 100 लोगों के शामिल होने की इजाजत है.
मध्य प्रदेश
मध्य प्रदेश में भी कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है. बीते 24 घंटे में प्रदेश में 3722 मामले सामने आए जिनमें से 866 मामले अकेले इंदौर और 618 मामले भोपाल से सामने आए. कोरोना की रफ्तार को देखते हुए मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने 12 शहरों में वीकेंड कर्फ्यू लगा दिया है जिसके तहत रविवार को कर्फ्यू रहेगा. शुरुआत में सरकार ने सिर्फ इंदौर, भोपाल और जबलपुर में वीकेंड कर्फ्यू लगाया था लेकिन कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए अब इसका दायरा 12 शहरों तक पहुंच चुका है. इसके अलावा शाजापुर में आज से 58 घंटे का लॉकडाउन लगाया गया है.
छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़ में कोरोना के हालात कई अन्य राज्यों से बदतर हैं. यहां रोज औसतन 6 हजार मामले सामने आ रहे हैं. बीते 24 घंटे में 9,921 नए केस सामने आए. कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रदेश सरकार ने 20 जिलों में नाइट कर्फ्यू और दुर्ग में पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया है.
ओडिशा
ओडिशा के 10 जिलों में बीती 5 अप्रैल से नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. इन जिलों में ये कर्फ्यू रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक होगा. लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश सरकार ने ये फैसला लिया. ये सभी जिले छत्तीसगढ़ की सीमा से लगते हैं. गौरतलब है कि कोरोना के मामलों में तेजी से इजाफा हुआ है.
पंजाब
पंजाब में भी लगातार नए केस सामने आ रहे हैं जिसे देखते हुए पंजाब सरकार ने पूरे प्रदेश में नाइट कर्फ्यू लगा दिया है. जो रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगा. दरअसल पंजाब में रोजाना औसतन 2500 मामले सामने आ रहे हैं. प्रदेश में काफी संख्या में यूके वैरिएंट मिला है जो सबसे बड़ी चिंता का विषय है. जिसे देखते हुए पहले पंजाब सरकार ने 10 अप्रैल तक 11 जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाया था लेकिन कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए बुधवार कोरोना मामलों की समीक्षा के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री ने पूरे प्रदेश में नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला लिया.
चंडीगढ़
कोरोनो के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में भी नाइट कर्फ्यू का फैसला लिया गया है. चंडीगढ़ में बुधवार रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू रहेगा. चंडीगढ़ के प्रशासक वीपी सिंह बदनौर ने पुलिस को नाइट कर्फ्यू का सख्ती से पालन करवाने के निर्देश दिए हैं.
राजस्थान
राजस्थान में भी हालात भयावह होते जा रहे हैं. बीते 3 दिनों में औसतन 2000 नए मामले रोज सामने आ रहे हैं. प्रदेश सरकार की तरफ से जयपुर, जोधपुर, अजमेर, कोटा, उदयपुर, अलवर समेत 10 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया है. जो रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा. होटल और रेस्टोरेंट को होम डिलीवरी की छूट रहेगी. सरकार के आदेश के मुताबिक शादी समारोह में 200 से ज्यादा और अंतिम संस्कार में 50 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकते.
झारखंड
झारखंड में भी कोरोना के औसतन 1000 से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं जिसे देखते हुए प्रदेश सरकार ने 8 अप्रैल से प्रदेश में नाइट कर्फ्यू का फैसला लिया है. जिसके मुताबिक प्रदेश में 30 अप्रैल तक रात 8 बजे से कर्फ्यू लग जाएगा.
कुल मिलाकर कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर डरा रही है. पिछले साल से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में कई राज्यों ने वीकेंड लॉकडाउन से लेकर नाइट कर्फ्यू तक का फैसला लिया है. कुछ राज्य सरकारों ने शादी या अन्य समारोह में मेहमानों के शामिल होने की संख्या तय कर दी है. लेकिन जिस रफ्तार से कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं वो बीते साल में लगे लॉकडाउन की यादें ताजा कर रहा है. इसलिये आप सभी से अपील है कि कोरोना से जुड़ी गाइडलाइंस का पालन कीजिये. मास्क से लेकर सेनिटाइजर का इस्तेमाल करें और दो गज की दूरी बनाकर रखें.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.