faizaanफैजान मुसन्ना की फेसबुक वाल से: नरेंद्र मोदी खुद को राश्ट्रवादी कहते हैं जबिक दूसरी तरफ एम डी एम जैसी पार्टी से हाथ मिलाते हैं जो कह रही है कि अगर वो सत्ता में आयी तो भारत का नाम बदल कर संयुक्त राश्ट्र भारत रख देगी । वहीं दूसरी तरफ नरेंद्र मोदी कष्मीरी अलगाववादी गिरोहों से सहयोग मांगते है ये कैसा राश्ट्रवाद है भाई नहीं चाहिए हमें भारत की कीमत पर ऐसा राश्ट्रवाद । अभी वक्त मोदी छाप राश्ट्रवादियों होष में आजो वरना कल तुम्हारा नाम भी नाथू राम गोडसे के बगल में लिखा जायेगा ।
नरेंद्र मोदी के लिए कुछ अहम सवाल
-आप विकास की बात करते है मगर 5 साल से नीचे के 44ः बच्चे गुजरात में कुपोषित है, क्यों?
-कुपोषण के मामले में पूरे भारत में सुधार हुआ है मगर सिर्फ गुजरात फिसड्डी साबित हुआ है, ऐसा क्यों?
-क्या ये सच नहीं है कि गुजरात सरकार ने निजी बिजली कंपनियों को 7550 करोड कि सब्सिडी दी थी?
-पिछले 12 सालों में गुजरात में गरीबों की संख्या 39ः तक बढी है? क्या ये अंाकडे गलत है?
-अगर गुजरात में सडकों की हालत अच्छी है तो हाई कोर्ट ने सड़कों की हालत सुधारने के लिए नोटिस क्यों दिया था?-सौराष्ट्र, कच्छ और उत्तरी गुजरात में पानी की भीषण कमी पर आपका क्या कहना है?
-तमिलनाडु में आपने एल टी टी ई का समर्थन करने वाली वाइको की पार्टी एम डी एम के से हाथ मिलाया है, एम डी एम के ने अपने घोषणा पत्र में लिखा है कि एन डी ए कि सरकार बनने के बाद वो एल टी टी ई से प्रतिबन्ध हटा देगी और भारत का नाम संयुक्त राश्ट्र भारत कर देगी? क्या आप इसका समर्थन करते है?
-सीएजीकि रिपोर्ट के मुताबिक आपकी सरकार ने कुछ औद्योगिक घरानों को गैरकानूनी फायदा पहुचाया है, क्यों?
-आपकी पार्टी को दिया गया 85ः चंदा बेनामी क्यों है?
-क्या ये सच नहीं है कि हाल ही में गांधीनगर में 1000 आर टी आई कार्यकर्ताओं ने भूख हडताल की थी, क्योंकि गुजरात में 50000 से ज्यादा आर टी आई पेंडिंग पडी है?
-गुजरात में जो लचर लोकायुक्त कानून लाया गया है, उसमे ये लिखा है कि मुख्यमंत्री ही तय करेगा कि लोकयुक्त की रिपोर्ट को माना जाए या नहीं, फिर लोकायुक्त का क्या मतलब हुआ?
-क्या ये सच है कि गुजरात के लोकायुक्त में ये लिखा है कि जांच पूरी होने के बाद भी कोई भी पत्रकार यदि जांच के बारे किसी भी चैनल या अखबार में लिखता है तो उस पर कार्यवाही होगी?
-लोकायुक्त की किसी भी जांच को आप रोक सकते हैं, अगर वो किसी मंत्री के खिलाफ हो तो, क्या ये सच है?
-क्या ये सच नहीं है कि कच्छ के सिख किसानों की जमीने आपने छीनी है? अगर नहीं तो उन्होंने आन्दोलन क्यों किया है?
-क्या ये सच नहीं है कि गुजरात बीजेपी के नेता शंकर चैधरी और अन्य लोगों ने सोलर प्लांट की जमीन किसानों से कोंडियों के भाव खरीद कर 27 लाख प्रति एकड के हिसाब से बेचीं?
-आप गो-हत्या कि बात करते हैं, क्या ये सच नहीं है कि गुजरात में 1200 से ज्यादा गौचर भूमियों मर माफियाओं का कब्जा है? कोर्ट के आदेश के बाद भी ये जैसा का तैसा क्यों है?
-क्या ये सच नहीं है कि अदानी को 30 साल तक के लिए आपने जमीने 60 पैसा प्रति एकड के हिसाब से दी है?
-2002 में चुनाव लड रहे लोगों को अपनी सम्पत्ति और आपराधिक मुकदमों का ब्यौरा देने वाले सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को बीजेपी की सरकार ने अध्यादेश लाकर पलटने की कोशिश क्यों की थी?
-आपके मुख्य सलाहकार को चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश में साम्प्रदायिकता फैलाने के जुर्म में रैली करने से रोका है, इस पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है?
-राजस्थान में बीजेपी की वसुंधरा राजे की सरकार ने चुनावों से पहले अशोक गहलोत के खिलाफ जो ब्लैक पेपर निकाला था, उसमे 3.4 लाख करोड के जमीन घोटाले का जिक्र था
अब उसी घोटाले में हाई कोर्ट में वसुंधरा राजे शपथ पत्र देकर “जीरो लोस” बता रही हैं! बीजेपी को इस बडी राशि में से कितना हिस्सा मिला है?
-गुजरात की 26 सीटों में से 10 पर आपने पूर्व कांग्रेसियों को टिकट दिया है! जो कांग्रेसी पहले भ्रष्ट थे वो अब पाक साफ कैसे हो गए?
-बाबु भाई बोखादिया को खनन घोटाले में अदालत ने दोषी पाया है, वो आपके मंत्रिमंडल में अभी तक क्यों हैं?
– एक हजार करोड़ के राशन घोटाले में जेल जा चुके पूर्व मुख्यमंत्री गेगांग अपांग बीजेपी में शामिल, क्यों?
-आप अदानी के हेलीकाप्टरों में उडते हैं, उसका किराया कौन देता है? बीजेपी या गुजरात सरकार? अगर बीजेपी देती है तो ये पैसा कहाँ से आया?
– सौरभ पटेल जो अम्बानी का दामाद है उसे आपने तेल और ऊर्जा मंत्री क्यों बनाया?
-सत्ता में आने के बाद आप अम्बानी को गैस के दाम कितने देंगे? 4 डॉलर, 8 डॉलर या 16 डॉलर?
-क्या ये सच नहीं है कि पिछले 23 सालों सरकारी आंकडों के मुताबिक गुजरात में बेरोजगारी जस की तस है?
-क्या ये सच नहीं है कि एक आर टी आई में हुए खुलासे के अनुसार गुजरात की सरकार ने आज तक अल्पसंख्यकों की सुनवाई के लिए कोई भी आयोग गठित नहीं किया है?
-आपने अपने चुनावी प्रचार और अपनी छवि चमकाने के लिए अमेरिकन कंपनी एपको पर जो खर्चा किया है, वो किसने दिया, बीजेपी ने या गुजरात सरकार ने? अगर बीजेपी ने दिया तो ये पैसा आया कहाँ से?

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.