tulashi है। तुलसी का पौधा आयुर्वेद औषधी है। जो भंयकर रोगों को नष्टï कर देता है। रोजाना तुलसी के पांच पत्ते जयर खाने चाहिए। प्रतिदिन तुलसी के पत्ते खाने से होने वाले फायदे बड़े ही अनोखे होते हैं।
हिन्दू धर्म में तुलसी को इसके अनगिनत औषधीय गुणों के कारण पूज्य माना गया है।
यही कारण है कि हिन्दू धर्म में तुलसी से जुड़ी अनेक धार्मिक मान्यताएं है और हिन्दू धर्म में तुलसी को घर में लगाना अनिवार्य माना गया है। आज हम बात कर रहे हैं
तुलसी के कुछ ऐसे ही गुणों के बारे में…. –
मासिक धर्म के दौरान कमर में दर्द हो रहा हो तो एक चम्मच तुलसी का रस लें। इसके अलावा तुलसी के पत्ते चबाने से भी मासिक धर्म नियमित रहता है।
– बारिश के मौसम में रोजाना तुलसी के पांच पत्ते खाने से
मौसमी बुखार व जुकाम जैसी समस्याएं दूर रहती है।
तुलसी की कुछ पत्तियों को चबाने से मुंह का संक्रमण
दूर हो जाता है। मुंह के छाले दूर होते हैं व दांत भी स्वस्थ रहते हैं।
– सुबह पानी के साथ तुलसी की पत्तियां निगलने से
कई प्रकार की बीमारियां व संक्रामक रोग नहीं होते हैं।
दाद, खुजली और त्वचा की अन्य समस्याओं में
रोजाना तुलसी खाने व तुलसी के अर्क को प्रभावित
जगह पर लगाने से कुछ ही दिनों में रोग दूर हो जाता है।
– तुलसी की जड़ का काढ़ा ज्वर (बुखार) नाशक होता है।
तुलसी, अदरक और मुलैठी को घोटकर शहद के साथ लेने
से सर्दी के बुखार में आराम होता है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.