लखनऊ : उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड में 8 पदों पर होने वाले चुनाव के लिए सदस्यों का चुनाव निर्विरोध तय हो गया है. विधायक कोटे के तहत दो सदस्य पदों के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने वाले चार विधायकों में से दो ने शुक्रवार को अपना नाम वापस ले लिया.
यह होंगे सुन्नी वक्फ बोर्ड के सदस्य
हाईकोर्ट के आदेश पर हो रहे सुन्नी वक्फ बोर्ड के चुनाव में सभी सदस्य निर्विरोध तय हो गए हैं. इसकी औपचारिक घोषणा शनिवार को होगी. इनमें सांसद कोटे से मुरादाबाद के सपा सांसद एस.टी हसन, अमोरहा से बसपा सांसद कुंवर दानिश अली, विधान मंडल कोटे से नफ़ीस अहमद और अबरार अहमद, राज्य बार काउंसिल कोटे से एडवोकेट इमरान माबूद खां और अब्दुल रज़्ज़ाक खान शामिल होंगे. मुतावल्ली कोटे से सुन्नी वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन ज़ुफ़र अहमद फ़ारूकी और अदनान फर्रुख शाह सदस्य बनेंगे. सभी 8 सदस्य निर्विरोध यूपी सुन्नी सेंट्रेल वक्फ बोर्ड के सदस्य तय हो गए हैं. वहीं, अब 3 सदस्यों को राज्य सरकार नामित कर वक्फ बोर्ड का सदस्य बनाएगी. इसके बाद यह 11 सदस्य अपने बीच से वक्फ बोर्ड के चेयरमैन का चुनाव करेंगे.
इन विधायकों ने लिया नाम वापस
विधानमंडल कोटे के तहत दो सदस्य पदों के लिए कुल चार विधायकों ने नामांकन पत्र दाखिल किया था. हालांकि शुक्रवार को सपा एमएलसी परवेज़ अली और सपा विधायक नवाब इक़बाल महमूद ने अपना नाम वापस ले लिया. इससे विधानमंडल कोटे के तहत अबरार अहमद और नफ़ीस अहमद का भी निर्विरोध सदस्य चुना जाना तय हो गया है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.