लखनऊ: बंथरा थाने में तैनात निर्मल चौबे नाम के दारोगा ने सर्विस पिस्टल से सीने में गोली मारकर खुदकुशी कर ली. मरने से पहले दारोगा ने मुख्यमंत्री के नाम सुसाइड नोट लिखकर बताया कि मैं बहुत बीमार हूं और अब जा रहा हूं. मेरे बच्चों का ख्याल रखिएगा. उनकी मौत की खबर से परिवार के सदस्यों में कोहराम मचा है. पुलिस दारोगा की पिस्टल और सुसाइड नोट कब्जे में लेकर जांच कर रही है.
वाराणसी निवासी दारोगा निर्मल चौबे यहां चिनहट में रहते थे और बंथरा थाने में तैनात थे. विधानसभा सत्र में उनकी ड्यूटी लगी थी. बताया जा रहा है कि दारोगा की दिमागी हालत ठीक नहीं थी और उनका इलाज चल रहा था. दोपहर 3 बजे के आसपास विधानसभा गेट नंबर 7 के पार्किंग स्टैंड पर दारोगा ने अपने आप को गोली मार ली. गोली की आवाज से हड़कम्प मच गया. पुलिस ने उन्हें सिविल अस्पताल भिजवाया जहां मौत हो गई.
लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर का कहना है कि दरोगा के पास से एक सुसाइड नोट मिला है. सुसाइड नोट मुख्यमंत्री को संबोधित है. उसमें दरोगा ने लिखा है कि, मैं बहुत बीमार हूं और अब जा रहा हूं. मेरे बच्चों का ख्याल रखिएगा. उनकी मौत की खबर से परिवार के सदस्यों में कोहराम मचा है.
दारोगा का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है
घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर और ज्वाइंट कमिश्नर कानून व्यवस्था नवीन अरोरा समेत अन्य अधिकारी सिविल अस्पताल पहुंच गए. वहां दरोगा के परिवार के सदस्यों को सूचना देकर बुलवाया गया. दरोगा का शव देखते ही परिवार के लोगों में रोना-पीटना मच गया. पुलिस अधिकारियों ने सबको संभाला और सांत्वना दी. फिलहाल दारोगा का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. परिवार के लोगों का कहना है कि पोस्टमार्टम के बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए पैतृक स्थान ले जाया जाएगा.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.